ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरBihar 10th Board: आज था साइंस का पेपर, छात्रों ने बताया- आ सकते 80% से अधिक मार्क्स, जानें रिएक्शन

Bihar 10th Board: आज था साइंस का पेपर, छात्रों ने बताया- आ सकते 80% से अधिक मार्क्स, जानें रिएक्शन

बीएसईबी बिहार बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा 2024 चल रही है। आज साइंस पेपर आयोजित किया गया था। आइए जानते हैं कैसे रही परीक्षा और परीक्षा को लेकर क्या थे छात्रों के रिएक्शन। यहां पढ़ें पूरी डिटेल्स।

Bihar 10th Board: आज था साइंस का पेपर, छात्रों ने बताया- आ सकते 80% से अधिक मार्क्स, जानें रिएक्शन
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 20 Feb 2024 05:57 PM
ऐप पर पढ़ें

BSEB Matric Exam 2024: बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड (BSEB) ने  आज कक्षा 10वीं के साइंस पेपर का आयोजन किया था। परीक्षा दो शिफ्ट में आयोजित की गई थी। पहली शिफ्ट सुबह 9.30 बजे से दोपहर 12.45 बजे तक और दूसरी शिफ्ट दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक आयोजित की गई थी। जो छात्र परीक्षा में शामिल हुए हैं, आइए जानते हैं उनकी परीक्षा कैसी रही।

कक्षा 10वीं की छात्रा दिया कुमारी ने बताया कि जो भी पढ़ाई की थी, वह साइंस की परीक्षा में पूछा गया। पेपर काफी अच्छा हुआ।  एक छात्रा मधू कुमारी ने बताया, साइंस के पेपर में ऑब्जेक्टिव और सब्जेक्टिव प्रश्न आसान पूछे गए। परीक्षा में 300 तक मार्क्स आने की उम्मीद है।

कक्षा 10वीं की छात्रा संतोषी कुमारी ने बताया कि, साइंस का पेपर आसान था। जिन छात्रो ने पढ़ाई की है, उनके लिए पेपर आसान रहा है। साइंस के पेपर के लिए जिन प्रश्नों की तैयारी की थी, वही पूछे गए थे। ओवरऑल परीक्षा आसान थी। छात्रों मुस्कान कुमारी ने बताया, साइंस का पेपर अच्छा रहा। परीक्षा में 80+ मार्क्स आने की उम्मीद है।

बता दें, बिहार बोर्ड कक्षा 10वीं की कल यानी 21 फरवरी इंग्लिश विषय की परीक्षा आयोजित की जाएगी। 22  और 23 फरवरी को इलैक्टिव परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। वहीं अगर परीक्षा से संबंधित किसी भी छात्र को कोई परेशानी होती है, तो वह अपनी शिकायत टेलीफोन नंबर - 0612-2232257 और 0612-2232227 पर दर्ज कर सकते हैं। बता दें, बीएसईबी ने मैट्रिक परीक्षाओं के लिए एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया है।

बिहार बोर्ड मैट्रिक यानी कक्षा 10वीं की परीक्षा 2024 आधिकारिक तौर पर 15 फरवरी से शुरू हुई थी। परीक्षा पहले दिन, राज्य में छात्रों ने 1,585 परीक्षा केंद्रों पर दो पालियों में मातृभाषा विषयों (हिंदी, बांग्ला, उर्दू और मैथिली) की परीक्षा आयोजित की गई थी। बता दें, परीक्षा केंद्रों के अंदर किसी भी परीक्षार्थी को जूता मौजा पहनकर प्रवेश की अनुमति नहीं दी जा रही है। जो छात्र परीक्षा केंद्र पर जूते पहनकर पहुंच रहे हैं, उन्हें जूते बाहर उतारकर परीक्षा केंद्र में भेजा गया है। वहीं परीक्षा केंद्र के प्रवेश द्वार पर एडमिट कार्ड के साथ तलाशी ली जा रही है। जिसके बाद परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र के अंदर जाने की अनुमति दी जाती है।

 

Virtual Counsellor