ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरBihar Board 12th Result: रिजल्ट जारी, जो छात्र नहीं हुए सफल, वो ऐसे हैंडल करें स्ट्रेस

Bihar Board 12th Result: रिजल्ट जारी, जो छात्र नहीं हुए सफल, वो ऐसे हैंडल करें स्ट्रेस

कक्षा 12वीं यानी इंटरमीडिएट के रिजल्ट जारी हो गया है। अब कुछ छात्र पास होंगे या कुछ छात्रों को अपने मार्क्स को लेकर अच्छे से खुश नहीं होंगे, ऐसे में स्ट्रेस का शिकार हो सकते हैं। आइए जानते हैं, इस सि

Bihar Board 12th Result: रिजल्ट जारी, जो छात्र नहीं हुए सफल, वो ऐसे हैंडल करें स्ट्रेस
student in stress
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 23 Mar 2024 09:33 PM
ऐप पर पढ़ें

Bihar Board Result: बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड (BSEB) कक्षा 10वीं -12वीं के रिजल्ट जारी कर दिया है। जिसमें इस साल 87.21% छात्र पास हुए हैं। जिसमें साइंस में 87.7%, कॉमर्स में 94.88% और आर्ट्स में 86.15% छात्र पास हुए हैं। वहीं रिजल्ट जारी होने के बाद कई छात्र पास हुए होंगे और कई फेल। ऐसे में आइए जानते हैं रिजल्ट के बाद होने वाले स्ट्रेस को कैसे दूर रख सकते हैं।

रिजल्ट के बाद ऐसे दूर करें स्ट्रेस

दूसरो से न करें तुलना

रिजल्ट घोषित होने के बाद, इस बात की बहुत अधिक संभावना है कि आपके मित्र, भाई-बहन या चचेरे भाई-बहन आपसे आपके मार्क्स जरूरी पूछेंगे। ऐसे में आप उन्हें सच बताएं और बढ़ा चढ़ाकर न बोलें। इसी के साथ एक बात याद रखें आपने उतने अंक प्राप्त किए हैं, जितने आप कर सकते थे। इसलिए अपनी तुलना दूसरों से न करें और मेहनत करते रहिए।

अपनी गलतियों से सीखें

रिजल्ट अगर आपके मनमुताबिक नहीं आया तो इस पर जरूरत से ज्यादा सोचने की बजाए पहले खुद को शांत करें और रिजल्ट का आकलन करें, कि आपने कौनसी गलतियां की थी, जिससे सुधारा जा सकता है। इसी के साथ  अपनी दैनिक गतिविधियां जारी रखें जैसे दोस्तों के साथ मिलना-जुलना, अपने माता-पिता के साथ बात करना, कॉमेडी शो देखना या  खेलना- कूदना। याद रखें आपके पास परीक्षा देने का दूसरा मौका भी है।

लें सकते है डॉक्टर की मदद

अगर तनाव और चिंता का स्तर असहनीय हो जाए तो इसे हल्के में न लें। जरूरत पड़ने पर मदद के लिए तुरंत मनोचिकित्सक के पास जा सकते हैं और काउंसलिंग ले सकते हैं। यदि आप किसी मनोचिकित्सक से डायरेक्ट बात करने में शर्म महसूस करते हैं, तो उनसे फोन पर भी काउंसलिंग ले सकते हैं और अपनी मन की बात बता सकते हैं।

इसी के साथ बता दें, जो छात्र परीक्षा में सफल नहीं हो पाएं हैं, तो वे कंपार्टमेंट परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। इस साल साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स् स्ट्रीम में कुल पास प्रतिशत 87.21% है। वहीं प्रत्येक स्ट्रीम की बात करें तो आर्ट्स में 86.15%, साइंस स्ट्रीम में 87.80% , कॉमर्स स्ट्रीम में 94.88%, वोकेशनल स्ट्रीम में 85.38% छात्र पास हुए थे।

जानें - लड़कियों-लड़के के पास प्रतिशत

तीनों स्ट्रीम में मिलाकर लड़कियां 88.84% और लड़के 85.69% सफल हुए हैं। वहीं प्रत्येक स्ट्रीम की बात करें तो आर्ट्स स्ट्रीम में 88.07%  लड़कियां और 83.17% लड़के सफल हुए हैं।  कॉमर्स स्ट्रीम में 96.91%  लड़कियां और 93.86% लड़के और साइंस स्ट्रीम में 89.71%  लड़कियां और 86.73% लड़के सफल हुए हैं। इसी के साथ बता दें, बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट परीक्षा में कुल 5,24,939 छात्रों को फर्स्ट डिविजन मिली है। सेकंड डिविजन में 5,04,897 छात्र और थर्ड डिविजन 96,595 है।

Virtual Counsellor