DA Image
4 जुलाई, 2020|4:38|IST

अगली स्टोरी

Bihar Board 10th Result 2020: बिहार बोर्ड 10वीं पास करने वाली 90 हजार छात्राओं को IIT JEE की फ्री कोचिंग कराएगा CBSE

बिहार बोर्ड से मैट्रिक पास बेटियां भी अब आईआईटी तक आसानी से पहुंच पाएंगी। सीबीएसई द्वारा उन्हें आईआईटी तक पहुंचने की तैयारी मुफ्त में करवायी जायेगी। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के उड़ान प्रोजेक्ट में अब बिहार बोर्ड की बेटियों भी आवेदन कर पाएंगी। जो चयनित होंगी, उन्हें सीबीएसई के उड़ान प्रोजेक्ट के तहत इंजीनियरिंग की तैयारी मुफ्त में करवायी जाएगी। मैट्रिक 2020 उत्तीर्ण वैसी छात्राएं उड़ान प्रोजेक्ट में आवेदन कर सकती हैं, जिन्हें मैट्रिक में 70 फीसदी अंक मिले हैं। इसके अलावा विज्ञान और गणित विषय में 80 फीसदी अंक मिले हैं। चूंकि इस बार मैट्रिक का रिजल्ट काफी बेहतर हुआ है। एक लाख 65 हजार 299 छात्राओं को प्रथम श्रेणी प्राप्त हुआ है। इनमें 90 हजार से अधिक छात्राएं 70 फीसदी या उससे अधिक अंक प्राप्त की हैं। इन छात्राओं को उड़ान प्रोजेक्ट में शामिल होने का मौका मिलेगा। 

ज्ञात हो कि सीबीएसई द्वारा बेटियों को इंजीनियरिंग की तैयारी कराने के लिए उड़ान प्रोजेक्ट हर साल शुरू किया जाता है। दो साल के इस कोर्स में 11वीं और 12वीं के साथ इंजीनियरिंग की तैयारी करवायी जाती है। जिनका चयन होता है उन्हें पूरी तरह नि:शुल्क तैयारी करवायी जाती है। सीबीएसई द्वारा उड़ान प्रोजेक्ट के लिए आवेदन लिये जाते हैं। चयन के लिए ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा होती है। देश भर से एक हजार छात्राओं का चयन किया जाता है। चयन के बाद बोर्ड द्वारा छात्राओं को नि:शुल्क जेईई मेन, जेईई एडवांस की तैयारी करवायी जाएगी। दो साल के इस कोर्स में छात्राओं को विजुअल क्लासेस, वीडियो आदि उपलब्ध करवाया जायेगा।

अवसर
- इस साल उत्तीर्ण वैसी छात्राएं कर सकती हैं आवेदन जिन्हें 70 फीसदी अंक मिले हैं
- अब बिहार बोर्ड की बेटियों भी आवेदन कर पाएंगी, ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा होती है
- - 1000 हजार छात्राओं का चयन उड़ान प्रोजेक्ट के लिए किया जाता है देशभर से

रिजल्ट के बाद आवेदन प्रक्रिया 
- सीबीएसई की मानें तो 10वीं बोर्ड के रिजल्ट के बाद उड़ान प्रोजेक्ट के लिए आवेदन लिये जाएंगे। हर साल मई से जून तक उड़ान के लिए आवेदन लिये जाते थे। लेकिन कोरोना वायरस के कारण इस बार अगस्त में नामांकन प्रक्रिया शुरू होगी।

बिहार में अभ्यानंद ने शुरू किया ब्रह्मजन सुपर 100, गरीब भूमिहार ब्राह्मण छात्रों को मिलेगी IIT एंट्रेंस की फ्री कोचिंग

जेईई एडवांस में आरक्षण  
जेईई मेन में चयनित छात्राओं को जेईई एडवांस की परीक्षा में आरक्षण भी दिया जाता है। सीबीएसई की मानें तो ओबीसी छात्राओं को 27 फीसदी आरक्षण, एससी कोटि को 15 फीसदी, एसटी कोटि को 7.5 फीसदी और दिव्यांग छात्राओं को तीन फीसदी आरक्षण मिलेगा। 

राजीव रंजन (सिटी कोऑर्डिनेटर, सीबीएसई) ने कहा, उड़ान प्रोजेक्ट काफी अच्छा है। इसमें चयनित होने वाली बेटियों को सीबीएसई मुफ्त में जेईई मेन और जेईई एडवांस की तैयारी करवाता है। यह बेटियों के लिए सुनहरा अवसर है। बिहार बोर्ड की छात्राएं भी अब इसमें आवेदन कर पाएंगी। 

Bihar 10th result 2020: बिहार के दसवीं नतीजों में लड़कियों में जानिए कौन आया अव्वल

सीबीएसई: टेली काउंसिलिंग शुरू 
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए फिर टेली काउंसिलिंग शुरू की है। यह काउंसिंलिंग 15 जुलाई तक चलेगी। सोमवार से रविवार तक सुबह 9.30 बजे से 5.30 बजे तक काउंसिलिंग का फायदा छात्र उठा सकते हैं। काउंसिलिंग के दौरान बोर्ड परीक्षार्थियों को कोविड-19 की जानकारी दी जायेगी। परीक्षा के दौरान उन्हें क्या सावधानी रखनी है। बोर्ड ने क्या नियम बनाये है। बोर्ड की मानें तो छात्र और अभिभावक बोर्ड द्वारा दिये गये टॉलफ्री नंबर 1800118004 पर कॉल कर काउंसलर से मदद ले सकते हैं। देशभर से 73 काउंसलर को लगाया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bihar Board 10th Result 2020: CBSE will provide free IIT coaching to bihar board matric pass girls students under cbse udaan scheme