DA Image
17 जून, 2020|2:45|IST

अगली स्टोरी

Bihar board 10th result 2020: नतीजे यहां करें चेक, इस बार 80.59% रहा रिजल्ट, ये है पिछले 10 साल का पास प्रतिशत

bihar board result

Bihar Board 10th Result 2020 Live updates : बिहार बोर्ड मैट्रिक 2020 रिजल्ट जारी कर दिया गया है। कुल 80.59 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए हैं। परीक्षा में 481 मार्क्स के साथ हिमांशु राज ने टॉप किया है। दूसरे स्थान पर समस्तीपुर के दुर्गेश कुमार (480 मार्क्स) रहे हैं। तीसरे स्थान पर भोजपुर के शुभम कुमार, औरंगाबाद के राजवीर और अरवल की जूली कुमारी ने कब्जा जमाया है।

तीनों के 478-478 मार्क्स हैं।  पिछले साल 80 फीसदी रिजल्ट गया था। इस बार सिमुलतला विद्यालय से निराशा हाथ लगी है। सिमुलतला का रिजल्ट पिछले छह सालों में सबसे खराब रहा है। टॉप 10 में 41 बच्चे हैं, जिसमें से तीन बच्चे ही सिमुलतला के हैं।

परीक्षार्थी अपना रिजल्ट ( Bihar Board Matric Result 2020 ) बोर्ड वेबसाइट biharboardonline.com और onlinebseb.in पर देख सकते हैं। इसके अलावा परीक्षार्थी आपके अपने अखबार हिन्दुस्तान की वेबसाइट www.livehindustan.com पर जाकर रिजल्ट देख सकते हैं। परीक्षाफल की घोषणा शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने की। इस मौके पर शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन भी मौजूद थे। रिजल्ट की घोषणा के साथ ही करीब 15 लाख परीक्षार्थियों का इंतजार खत्म हो गया। 

आपको बता दें कि मैट्रिक 2019 के रिजल्ट में बिहार बोर्ड ने एक नया रिकार्ड बनाया था। बोर्ड के रिकार्ड की मानें तो 2019 तक 80 फीसदी रिजल्ट किसी भी साल नहीं गया था । 2000 से 2018 तक की बात करें तो मैट्रिक में 75 फीसदी तक उत्तीर्णता का प्रतिशत रहा है। बोर्ड की मानें तो 2000 से 2012 तक रिजल्ट 67 से 70 फीसदी तक ही रिजल्ट रहा। वर्ष 2014 और 2015 की बात करें तो रिजल्ट 75 फीसदी तक गया था। 2014 में जहां 75.05 फीसदी तो वहीं 2015 में 75.17 फीसदी छात्र पास हुए। 

बिहार बोर्ड मैट्रिक का रिजल्ट 2009 से 2018 तक गिरता और बढ़ता रहा। इसके बाद पहली बार 2019 में रिजल्ट 80 फीसदी के पार गया। बिहार बोर्ड के रिकॉर्ड की मानें तो अभी तक 80 फीसदी रिजल्ट किसी भी साल नहीं गया है। 2000 से 2018 तक की बात करें तो मैट्रिक में 75 फीसदी तक उत्तीर्णता का प्रतिशत रहा है। बोर्ड की मानें तो 2000 से 2012 तक रिजल्ट 67 से 70 फीसदी तक ही रिजल्ट रहा। वर्ष 2014 और 2015 की बात करें तो रिजल्ट 75 फीसदी तक गया था। 2014 में जहां 75.05 फीसदी तो वहीं 2015 में 75.17 फीसदी छात्र पास हुए।

 वर्ष 2009 से 2018 की बात करें तो रिजल्ट मे कई बार गिरावट आई। कई बार रिजल्ट गिरा, तो वहीं कई बार रिजल्ट बढ़ा भी।  2018 की तुलना में 2019 में 11.89 फीसदी की बढ़ोतरी हुई थी।  2015 से 2016 में मैट्रिक रिजल्ट में गिरावट आई।  2014 में जहां 75.17 फीसदी छात्र सफल हुए वहीं 2016 में 47.15 फीसदी ही छात्र उत्तीर्ण हो पाए थे। इसके बाद 2017 के रिजल्ट में 2.97 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। तब रिजल्ट 50.12 फीसदी रहा था। इसके बाद वर्ष 2018 में 68.89 फीसदी रिजल्ट रहा था।

ऐसा रहा दस साल का रिजल्ट 
साल       -          प्रतिशत
2009      -           68.3 फीसदी 
2010     -           70.9 फीसदी 
2011     -            72.32 फीसदी 
2012     -            72.56 फीसदी
2013     -            73.48 फीसदी 
2014     -            76.05 फीसदी 
2015     -            75.17 फीसदी 
2016     -            47.15 फीसदी 
2017     -            50.12 फीसदी 
2018    -             68.89 फीसदी 
2019    -             80.73 फीसदी 
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bihar Board 10th Result 2020: BSEB bihar board matric result 2020 declared onlinebseb biharboardonline result declaration check direct link 80 59 percent Student pass check 10 years pass percentage