DA Image
8 जुलाई, 2020|2:17|IST

अगली स्टोरी

Bihar board 10th result 2020: बिहार बोर्ड मैट्रिक का रिजल्ट जारी, इस तरह आसानी से online चेक पाएंगे नतीजे

bihar board result 2020

बिहार स्कूल एजुकेशन बोर्ड आज मैट्रिक के नतीजे जारी कर दिए गए। स्टूडेंट्स दोपहर 12.30 बजे नतीजे बिहार बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट onlinebseb.in के साथ लाइव हिन्दुस्तान पर भी चेक कर सकेंगे। इंटर की तरह ही बिहार बोर्ड मैट्रिक के नतीजे के लिए कोई प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित नहीं कर रहा है। नतीजे ऑनलाइन ही जारी किए जा रहे हैं। इसलिए स्टूडेंट्स भी मोबाइल और कंप्यूटर पर अपने रोल नंबर के जरिए आसानी से चेक कर सकेंगे। लाइव हिन्दुस्तान पर नतीजे चेक करने के लिए आपको रजिस्ट्रेशन करना होगा।

पाएं Bihar Board Matric result 2020 का अलर्ट सबसे पहले, Registration के लिए क्लिक करें   

रजिस्ट्रेशन किए हुए स्टूडेंट्स को लाइव हिन्दुस्तान एक एसएमएस भेजेगा और स्टूडेंट्स आसानी से अपना रिजल्ट चेक कर सकेंगे। पिछले साल की तरह इस साल भी बिहार बोर्ड के नतीजे अच्छे आने की उम्मीद है। बोर्ड सूत्रों के अनुसार इस बार रिजल्ट 85 फीसदी से अधिक होगा। पिछली बार 80.73 फीसदी रिजल्ट रहा था। इस बार रिजल्ट में छात्रों को 20 फीसदी अतिरिक्त विकल्प वाले प्रश्नों का फायदा होगा। इससे रिजल्ट का पास प्रतिशत बढ़ सकता है।

इस बार कोरोना वायरस लॉकडाउन ने बिहार बोर्ड नतीजों घोषित करने औऱ मूल्यांकन का पूरा शेड्यूल बिगाड़ दिया था। कॉपियों के मूल्यांकन की वजह से हुई देरी के कारण नतीजे भी देर से जारी हो पाए। वहीं बिहार बोर्ड मैट्रिक के नतीजे पहले ही 24 मार्च को जारी कर दिए गए थे। 

टॉपर्स के इंटरव्यू पर भी कोरोना का असर- बिहार मैट्रिक के मूल्यांकन के बाद टॉपर्स के इंटरव्यू पर भी कोरोना का असर साफ दिखाई दिया। रिपोर्ट्स के मुताबिक हर बार की तरह टॉपर्स का फिजिकल वेरिफिकेशन नहीं हो पाया। बिहार बोर्ड के मैट्रिक के टॉपर्स से ऑनलाइन ही प्रश्न पूछे गए। मेरिट लिस्ट बनाने से पहले उच्चतम अंक लाने वाले लगभग 100 छात्रों का इंटरव्यू लिया गया।

ग्रेस मार्क्स पॉलिसी
पास प्रतिशत बेहतर करने के लिए बिहार बोर्ड ने ग्रेस मार्क्स देने की नीति अपना रखी है।  इसके मुताबिक अगर कोई छात्र किसी एक विषय में 8 प्रतिशत या इससे कम नंबर या दो विषयों में 4-4 प्रतिशत व उससे कम नंबर से फेल हो जाता है तो ​उसे ग्रेस नंबर देकर अगली कक्षा में प्रमोट कर दिया जाता है। वहीं अगर कोई छात्र कुल 75 प्रतिशत अंक (एग्रीगेट) हासिल करता है और किसी एक विषय में 10 प्रतिशत से कम नंबर से फेल हो जाता है तो उसे पास घोषित कर दिया जाता है। 

इस साल बिहार बोर्ड मैट्रिक में कुल 15.29 लाख छात्र-छात्राएं शामिल हुए थे। इनमें 7.83 लाख लड़कियां थीं। बिहार बोर्ड मैट्रिक की परीक्षाएं 17 फरवरी से 24 फरवरी के बीच आयोजित हुईं थी। पिछले साल (2019) 6 अप्रैल को मैट्रिक के परिणाम आए थे। 80.73 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए थे। बिहार बोर्ड मैट्रिक 2018 की परीक्षा में कुल 68.89 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए थे। यानी पिछले साल रिजल्ट काफी बेहतर रहा था। 2019 में करीब 12 प्रतिशत स्डूटेंस ज्यादा पास हुए थे। सिमुलतला के सावन राज भारती ने बिहार बोर्ड 10वीं में टॉप किया था। पहले 5 रैंक पाने वाले 8 स्टूडेंट्स सिमुलतला के थे। टॉप 10 स्टूडेंट्स में दो को छोड़कर शेष सभी विद्यार्थी सिमुलतला के थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bihar board 10th result 2020: Bihar School education board will declare bseb bihar board matric result today online