DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार: नौवीं और दसवीं के बच्चों का हर माह होगा मूल्यांकन

राज्य के सभी सरकारी विद्यालयों में नौवीं और दसवीं के बच्चों का हर माह मूल्यांकन होगा। माह के अंत में सभी विषयों का मूल्यांकन होगा ताकि बच्चों के शैक्षणिक स्तर की जांच हो सके। इसको लेकर बिहार शिक्षा परियोजना परिषद ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को निर्देश जारी किया है। गुणवत्तापूर्ण शिक्षण व्यवस्था को सुनिश्चित करने के लिए यह व्यवस्था की जा रही है। 

हर महीने के अंतिम सप्ताह में मूल्यांकन 

परिषद के निदेशक अरविंद कुमार वर्मा ने जिलों को जारी निर्देश में कहा है कि सभी माध्यमिक विद्यालयों में शैक्षणिक कैलेंडर के आधार पर पठन-पाठन प्रारंभ करने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। हर महीने के अंतिम सप्ताह में प्रत्येक कार्य दिवस को एक घंटी में किसी विषय का मूल्यांकन करें। इस घंटी में संबंधिय विषय के शिक्षक द्वारा पढ़ाये गये पाठों के आधार पर उनके द्वारा तैयार प्रश्न के माध्यम से सभी छात्र-छात्राओं का मूल्यांकन होगा। इसी माह से ही यह व्यवस्था शुरू होगी।

विद्यार्थी एक अभ्यास पुस्तिका रख सकेंगे

मासिक मूल्यांकन के लिए सभी विद्यार्थी प्रत्येक विषय की एक अभ्यास पुस्तिका अपने पास रखेंगे। मूल्यांकन के बाद विद्यालय के संबंधित विषय के शिक्षक के द्वारा अभ्यास पुस्तिका की जांच की जाएगी। इसके बाद अभ्यास पुस्तिका छात्र-छात्राओं को वापस कर दी जाएगी, ताकि उसका अवलोकन बच्चे कर सकें। 

40 फीसदी से कम अंक लाने वाले बच्चों के लिए विषयवार विशेष शिक्षण की व्यवस्था विद्यालयों द्वारा की जाएगी। प्रत्येक जिले के गणवत्तापूर्ण संचालन के लिए चयनित विद्यालय के हर विषय के शिक्षक अपने ए,बी,सी,डी व ई ग्रेड प्राप्त करने वाले छात्रों की संख्या बिहार शिक्षा परिषद को वाट्सअप पर भेजेंगे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bihar: Bihar Ninth and Tenth class students will be assessed every month