DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   करियर  ›  Bihar BEd CET Result 2020 : बिहार बीएड प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट जारी, ये रहा Direct Link , जानें किसने किया टॉप

करियरBihar BEd CET Result 2020 : बिहार बीएड प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट जारी, ये रहा Direct Link , जानें किसने किया टॉप

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Pankaj Vijay
Fri, 02 Oct 2020 05:39 AM
Bihar BEd CET Result 2020 : बिहार बीएड प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट जारी, ये रहा Direct Link , जानें किसने किया टॉप

Bihar BEd Result 2020 : बिहार बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट bihar-cetbed-lnmu.in पर जारी कर दिया गया है। परीक्षार्थी नीचे दिए गए डायरेक्ट लिंक पर क्लिक कर अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं। परीक्षा में 96.6 प्रतिशत परीक्षार्थी हुए सफल हुए हैं। ओवरऑल छात्र में पटना का सोनू कुमार और छात्रा में अरवल की ज्योति कुमारी टॉपर बनी है। ओवरऑल छात्र में पटना का सोनू कुमार और छात्रा में अरवल की ज्योति कुमारी टॉपर बनी है।

इस परीक्षा मे 94 हजार परीक्षार्थी शामिल हुए थे। तीन अक्टूबर से 23 नवंबर तक काउंसिलिंग होगी। इसमें छात्रों को अपने कॉलेज का ऑप्शन देना होगा। छात्रों की च्वाइस के आधार पर मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी। कॉलेज जिस विश्वविद्यालय से संबद्ध होगा, वहां छात्रों के प्रमाणपत्र की जांच होगी। रिजल्ट के आधार पर 35000 रेगुलर मोड में, 1000 डिस्टेंस मोड में तथा शिक्षा शास्त्र में 100 बीएड के लिए एडमिशन होगा। प्रदेश के 278 बीएड कॉलेजों में एडमिशन होगा। 

Bihar BEd CET Result 2020 :  - Direct Link

नोट: ऊपर दिए गए लिंक पर क्लिक करने के बाद नया पेज खुलेगा। नए पेज पर परीक्षार्थी  ''Click Here Bihar BEd CET Result 2020'' के लिंक पर क्लिक करने बाद अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं। वह अपने रोल नंबर और जन्मतिथि की मदद से लॉग इन कर सकते हैं।

इस बार प्रवेश परीक्षा कराने की जिम्मेवारी ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा को दी गई थी। विश्वविद्यालय की ओर से पूर्व निर्धारित समय पर 24 सितंबर को मॉडल उत्तर जारी कर दिया गया था। 27 सितंबर तक उत्तर कुंजी पर आपत्ति दाखिल की जा सकती थी। 30 सितंबर को रिजल्ट जारी करने का समय दिया गया था। 

छात्रों की च्वाइस के आधार पर मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी। तीन रांउड में नामांकन की प्रक्रिया पूरी कर लेनी है। सीटें बचने पर दो स्पॉट राउंड होगा। इस बार करीब रेगुलर 35 हजार सीटों के लिए नामांकन होगा। वहीं, डिस्टेंस कोर्स के लिए एक हजार सीटें हैं। 

कॉलेज जिस विश्वविद्यालय से संबद्धता प्राप्त होगा। वहां छात्रों के प्रमाण पत्र की जांच होगी। विश्वविद्यालय की ओर से एलॉट सीट प्राप्त होने के बाद छात्रों का किसी कॉलेज में नामांकन संभव है। 

संबंधित खबरें