DA Image
हिंदी न्यूज़ › करियर › AMU 10th Result 2021 Declared : एएमयू के कक्षा 10 की परीक्षा में बेटियों का परचम, पूर्वी गुप्ता ने किया टॉप
करियर

AMU 10th Result 2021 Declared : एएमयू के कक्षा 10 की परीक्षा में बेटियों का परचम, पूर्वी गुप्ता ने किया टॉप

कार्यालय संवाददाता,अलीगढ़Published By: Alakha Singh
Sat, 07 Aug 2021 09:51 PM
AMU 10th Result 2021 Declared : एएमयू के कक्षा 10 की परीक्षा में बेटियों का परचम, पूर्वी गुप्ता ने किया टॉप

AMU 10th Result 2021 Declared : अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने सेकेंड्री स्कूल सर्टीफिकेट परीक्षा (दसवीं कक्षा) 2021 का परिणाम शनिवार को घोषित कर दिया है।

परीक्षा नियंत्रक कार्यालय की ओर से घोषित परिणाम के अनुसार एएमयू गर्ल्स स्कूल की छात्राओं पूर्वी गुप्ता ने 500 में से 495 अंक प्राप्त किए। जबकि तूबा हुसैन और प्रियांशी उपाध्याय ने संयुक्त रूप से 500 में से 491 अंक प्राप्त किए। एसटीएस हाई स्कूल के केशव वाष्र्णेय ने 500 में से 490 अंक हासिल किए। एएमयू सिटी स्कूल के अभिनव कुमार और सीनियर सेकेंडरी स्कूल गर्ल्स की सारा साजिद खान ने भी 500 में से 490 अंक हासिल किए। सेकेंड्री स्कूल सर्टीफिकेट परीक्षा (दसवीं कक्षा) का परिणाम आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है। दसवीं कक्षा की परीक्षा में कुल 1438 छात्र शामिल हुए जिसमें 1355 छात्र व छात्राओं ने सफलता हासिल की। एएमयू कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने छात्रों की मेहनत की सराहना करते हुए कहा कि ये परीक्षाएं कठिन समय के बीच आयोजित की गईं। उन्होंने इन कठिन समय में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए छात्रों के प्रयासों की सराहना की।

प्रथम स्थान पर रही पूर्वी गुप्ता का डॉक्टर बनना लक्ष्य
-अलीगढ़ के सासनी गेट में आर के पुरम की रहने वाली पूर्वी गुप्ता 500 में से 495 अंक हासिल करके सबसे पहले स्थान पर रहीं है। वह आगे चलकर डॉक्टर बनना चाहती हैं। वह आर्थिक रुप से कमजोर लोगों का उपचार करके उनकी मदद करना चाहती हैं। पूर्वी के पिता सिद्धार्थ शंकर गुप्ता व्यापारी हैं। घर में उनकी एक बड़ी बहन है और छोटा भाई है। पूर्वी की सफलता पर उनकी मां शिल्पी गुप्ता सहित सभी परिचितों और रिश्तेदारों में खुशी की लहर है।

दूसरा स्थान पर रही तूबा हुसैन का इंजीनियर बनना लक्ष्य
-तूबा हुसैन 500 में से 491 अंक हासिल करके दूसरे स्थान पर रहीं है। वह इंजीनियर बनना चाहती हैं। जिला संभल के चंदौसी की रहने वाली तूबा के पिता शाकिर हुसैन फर्नीचर के व्यापारी हैं। घर में उनसे छोटी एक बहन और एक भाई है। उनकी सफलता पर मां आस्मां हुसैन बेहद खुश हैं और उन्हें अपनी बेटी पर नाज है। 

प्रियांशी उपाध्याय ने भी पाया दूसरा स्थान, डॉक्टर बनना सपना
-अलीगढ़ के एटा चुंगी शिवाजी मार्ग निवासी प्रियांशी उपाध्याय ने भी 491 अंक हासिल किए हैं। वह भी दूसरे स्थान पर रही है। उनके पिता मुकेश चंद्र शर्मा गोंडा में प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक हैं। प्रियांशी का सपना आगे चलकर डॉक्टर बनने का है। उनके घर में छोटी बहन और एक भाई है। प्रियांशी की सफलता पर उनकी मां कमलेश कुमारी शर्मा सहित परिवार में खुशी का माहौल है।

तीसरे स्थान पर तीन विद्यार्थी, चिकित्सा जगत में चिकित्सीय सेवाएं देना लक्ष्य
-एएमयू के दसवीं के परीक्षा परिणाम में तीसरे स्थान पर तीन विद्यार्थी रहे है। तीनों ने संयुक्त रुप से तीसरा स्थान पाया है। एसटीएस हाई स्कूल के केशव वाष्र्णेय शहर के सुरेंद्र नगर नगला तिकोना रोड पर रहते हैं। उन्होंने 490 अंक हासिल किए हैं। केशव का सपना चिकित्सा के क्षेत्र में जाकर लोगों की सेवा करने का है। केशव के पिता विशाल कुमार वाष्र्णेय अकाउंटेंट है और मां वेदवती वाष्र्णेय बुटीक चलाती हैं। कृषि की सफलता पर पूरे परिवार में खुशी की लहर है। इसी तरह एएमयू सिटी हाई स्कूल के अभिनव कुमार ने भी तीसरा स्थान साझा किया है। उन्होंने भी 490 अंक हासिल किए हैं।

सारा का लक्ष्य इंजीनियर बनना
-गाजियाबाद के साहिबाबाद शालीमार गार्डन की रहने वाली सीनियर सेकेंडरी गर्ल्स स्कूल की सारा साजिद खान ने भी तीसरा स्थान साझा किया है। उन्होंने भी 490 अंक हासिल किए हैं। सारा साजिद खान के पिता साजिद अली खान डॉक्टर हैं और सारा भविष्य में इंजीनियरिंग में अपना कैरियर बनाना चाहती हैं। उनकी सफलता पर मां सादिया खाना बेहद खुश हैं।


एएमयू गर्ल्स स्कूल की प्रिंसिपल आमना मलिक ने कहा कि एएमयू गलर्स स्कूल की छात्राओं ने पहले और दूसरे स्थान पर बाजी मारी है। इसके लिए बेटियों को बधाई देती हूं। उनके उज्जवल भविष्य की कामना करती हूं। मुझे पूरा विश्वास है कि वह अपने जीवन में बड़ा मुकाम हासिल करेंगी

संबंधित खबरें