DA Image
हिंदी न्यूज़ › करियर › AKTU UPCET 2021 : इंजीनियरिंग, फार्मेसी, मैनेजमेंट कॉलेजों के लिए काउंसिलिंग शेड्यूल जारी
करियर

AKTU UPCET 2021 : इंजीनियरिंग, फार्मेसी, मैनेजमेंट कॉलेजों के लिए काउंसिलिंग शेड्यूल जारी

वरिष्ठ संवाददाता,लखनऊPublished By: Alakha Singh
Fri, 27 Aug 2021 11:30 PM
AKTU UPCET 2021 : इंजीनियरिंग, फार्मेसी, मैनेजमेंट कॉलेजों के लिए काउंसिलिंग शेड्यूल जारी

AKTU UPCET 2021 : डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) ने शुक्रवार की शाम प्रदेश के इंजीनियरिंग, फार्मेसी और मैनेजमेंट कॉलेजों में दाखिले के लिए काउंसिलिंग का संभावित कार्यक्रम जारी कर दिया है। इस कार्यक्रम के अनुसार तहत 16 सितंबर से काउंसिलिंग प्रक्रिया शुरू हो सकती है। सात चरणों में होने वाली यह काउंसिलिंग प्रक्रिया 11 नवंबर को पूरी होगी।

यूपीसीईटी 2021 के इस संभावित काउंसिलिंग शेड्यूल में बीटेक, बीआर्क, बीफार्म, बीडेस, बीएचएमसीटी, बीएफए, बीएफएडी, बीवाक, एमटेक इंट्रीग्रेटेड, एमबीए, एमसीए, बीटेक लेटरल एवं बीफार्म लेटरल इत्यादि पाठ्यक्रमों की काउंसिलिंग प्रक्रिया का संभावित शेड्यूल जारी किया गया है। इसमें फिलहाल एमटेक, एमआर्क, एमफार्मा और एमडैस को शामिल नहीं किया गया है। विश्वविद्यालय प्रशासन का कहना है कि यह प्रस्तावित कार्यक्रम है। जेईई-मेन और यूपी सीईटी के नतीजों के आधार पर इसमें परिवर्तन संभव है। काउंसिलिंग प्रक्रिया सात चरणों में प्रस्तावित है। इसमें चार चरण सामान्य काउंसिलिंग के, पांचवां चरण राजकीय व अन्य संस्थानों में इंटरनल स्लाइडिंग का और छठा व सातवां चरण राजकीय व अन्य संस्थानों की रिक्त बची सीटों के लिए होगा।

यह काउंसिलिंग का शेड्यूल-
प्रथम चरण 16 सितम्बर से 28 सितम्बर तक

द्वितीय चरण 29 सितम्बर से 7 अक्टूबर तक
तृतीय चरण 8 अक्टूबर से 20 अक्टूबर तक

चौथ चरण 22 अक्टूबर से 26 अक्टूबर तक
पांचवा चरण 27 अक्टूबर

छठा स्पेशल चरण 28 अक्टूबर से 2 नवम्बर तक
सातवां स्पेशल चरण 3 नवम्बर से 10 नवम्बर तक

छठे व सातवें चरण के लिए भौतिक रिपोर्टिंग की अंतिम तिथि 11 नवम्बर
प्रवेश प्रक्रिया में बदलाव हुआ: एकेटीयू ने सत्र 2021-22 में होने वाले प्रवेश प्रक्रिया में बदलाव किया है। पहले विश्वविद्यालय अपने स्तर पर ही प्रवेश परीक्षा कराता था लेकिन अब नेशनल टेस्टिंग एजेंसी को परीक्षा कराने की जिम्मेदारी दी गई है। जेईई मेन्स के नतीजों के आधार पर इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले होंगे। वहीं यूपीसीईटी 2021 के नतीजों के आधार पर मैनेजमेंट, फार्मेसी, एमसीए समेत अन्य पाठ्यक्रमों में प्रवेश लिए जाएंगे। इसके अलावा एकेटीयू से सम्बद्ध संस्थानों में बीआर्क पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने वाले अभ्यर्थियों को नेशनल एप्टिट्यूड टेस्ट इन आर्किटेक्चर (नाटा) की प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करना अनिवार्य है।

5 व 6 सितम्बर को होगा यूपीसीईटी
फार्मेसी, एमटेक, बीबीए, एमबीए समेत अन्य पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए प्रस्तावित उत्तर प्रदेश कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (यूपीसीईटी) का आयोजन 5 और 6 सितम्बर को होगा। इसके माध्यम से एकेटीयू से जुड़े कॉलेजों में संचालित पाठ्यक्रमों में प्रवेश होंगे। प्रवेश परीक्षा का आयोजन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी करेगी। बीफार्मा, बीटेक ( बायो टेक्नोलॉजी) और बीटेक (एजी) की प्रवेश परीक्षा तीन घंटे की होगी। अन्य विषयों की परीक्षा की समय सीमा दो घंटे है।

संबंधित खबरें