DA Image
1 नवंबर, 2020|10:03|IST

अगली स्टोरी

एकेटीयू: बी.टेक की सिर्फ 7 प्रतिशत सीट पर हुए हैं दाखिले

admission for first cut off in du today

राजधानी लखनऊ समेत पूरे प्रदेश भर में इंजीनियरिंग की 73 हजार सीटें हैं। इसमें, करीब पांच हजार सीट आईईटी, बीआईईटी जैसे राजकीय संस्थानों की हैं। राज्य प्रवेश परीक्षा -2020 के पहले चरण के नतीजों के आधार पर निजी संस्थान ही नहीं बल्कि राजकीय इंजीनियरिंग संस्थानों को भी छात्र  नहीं मिल रहे हैं। 

पहले चरण की काउंसलिंग के बाद 73,151 सीट के मुकाबले सिर्फ 4,848 यानी सिर्फ 6.6 प्रतिशत सीट पर  दाखिले पक्के हुए हैं। छात्रों ने फीस जमा करके सीट कन्फर्म की है। काउंसलिंग की प्रक्रिया में शामिल हुए 12,699 अभ्यर्थियों ने बेहतर विकल्प की तलाश में काउंसलिंग के दूसरे चरण में जाने का फैसला लिया है। 

फार्मेसी में मारामारी के बाद भी नहीं हैं छात्र: बी.फार्मा की बाजार में काफी मांग है। बावजूद, इसके डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) के फार्मेसी कॉलेज की सीट काउंसलिंग से तो नहीं भरने वाली। पहले चरण की काउंसलिंग के बाद 24,523 में कुल 6.9 प्रतिशत यानी 1700 ने दाखिले पक्के किए हैं।  

कल तक कर सकते हैं पंजीकरण
 प्रवक्ता आशीष मिश्रा ने बताया कि दूसरे चरण के लिए दो नवम्बर तक पंजीकरण कर सकते हैं। अभ्यर्थियों को पांच नवम्बर शाम पांच बजे तक विकल्प चुनने का मौका मिलेगा। दूसरे चरण की सीट का आवंटन पांच नवम्बर को किया जाएगा। उसके बाद अभ्यर्थी  कन्फर्मेशन फीस जमा करके आवंटित सीट के सापेक्ष आठ नवम्बर तक फ्रीज, फ्लोट और विड्रा का विकल्प चुन सकता है। 

पाठ्यक्रम       कुल सीट                 पहले चरण में हुए दाखिले 

बी.टेक         73,151                           4,848
बी.फार्मा        24,523                           1,700
एमबीए          25,562                           1,279

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:AKTU Only 7 percent of BTech seats have been admitted