69000 teachers recruitment: new rules are good for shikshamitra in uttar pradesh - 69000 शिक्षक भर्ती: शिक्षामित्रों के लिए शिक्षक भर्ती का नया नियम संजीवनी जैसा, मिलेगा फायदा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

69000 शिक्षक भर्ती: शिक्षामित्रों के लिए शिक्षक भर्ती का नया नियम संजीवनी जैसा, मिलेगा फायदा

Teacher (symbolic Image)

प्राथमिक स्कूलों में 69000 सहायक शिक्षकों की भर्ती शिक्षामित्रों के लिए उम्मीद लेकर आई है। सरकार ने इसमें न्यूनतम अर्हता अंक समाप्त कर बड़ी संख्या में शिक्षामित्रों की नियुक्ति का रास्ता साफ किया है। हालांकि नए नियम को लेकर सात साल बाद अवसर पाने वाले बीएड डिग्रीधारियों में निराशा है। पिछली परीक्षा में सामान्य व ओबीसी को 45 व एससी व एसटी अभ्यर्थियों को 40 प्रतिशत अंकों पर पास किया गया था।

इस भर्ती में शिक्षामित्रों के हर सेवा वर्ष के लिए 2.5 अंक (अधिकतम 25 अंक) का अधिभार मिलेगा जो की गुणवत्ता अंक में सीधे जुड़ेगा। ऐसे में जिस शिक्षामित्र ने प्राथमिक स्तर की टीईटी पास की है उसका सहायक शिक्षक पद पर चयन लगभग तय है। सैकड़ों शिक्षामित्र ऐसे हैं जो प्राथमिक स्तर की टीईटी तो पास हैं लेकिन 26 मई 2018 को हुई परीक्षा में फेल हो गये थे। इस भर्ती में उन्हें अवसर मिल जाएगा।

Uttar pradesh: 69000 शिक्षक भर्ती परीक्षा का नहीं मिलेगा प्रमाणपत्र

वहीं टीईटी उत्तीर्ण बीएड अभ्यर्थियों का कहना है कि शिक्षक भर्ती परीक्षा में निर्धारित न्यूनतम कटऑफ को हटाने से व शिक्षामित्रों को शिक्षक भर्ती में मिल रहे 25 अंक के वेटेज से शिक्षामित्रों को ही सीधा फायदा मिलेगा। शिक्षक भर्ती परीक्षा व गुणवत्ता अंक में यदि कोई अभ्यर्थी शिक्षामित्र के बराबर अथवा कुछ अधिक अंक पाने के बावजूद 25 अंक वेटेज मिलने से शिक्षामित्रों की मेरिट अधिक हो जाएगी और बीएड अभ्यर्थी नियुक्ति से वंचित रह जाएगा।

UPTET result 2018: यूपी टीईटी परीक्षा के नतीजे 4 या 5 दिसंबर को होंगे घोषित, 6 दिसंबर से करें 69000 शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:69000 teachers recruitment: new rules are good for shikshamitra in uttar pradesh