21 government ITI cInstitute of Bihar to be developed as model institute - मॉडल बनेंगे बिहार के 21 सरकारी आईटीआई संस्थान DA Image
16 दिसंबर, 2019|2:36|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मॉडल बनेंगे बिहार के 21 सरकारी आईटीआई संस्थान

iti college in bihar   representative image

बिहार के सरकारी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) में से 21 को मॉडल के तौर पर विकसित किया जाएगा। इसके लिए राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों से करार किया गया है। श्रम संसाधन विभाग की कोशिश है कि आईटीआई से प्रशिक्षण लेने वालों को इस कदर प्रशिक्षित किया जाए कि उन्हें रोजगार खोजने या स्वरोजगार करने में कोई परेशानी नहीं हो।  

बिहार में 149 सरकारी आईटीआई हैं। इनमें केंद्र सरकार ने एक मात्र मढ़ौरा आईटीआई को मॉडल के तौर पर विकसित करने की सूची में शामिल किया था। सार्वजनिक लोक उपक्रम भागीदारी (पीपीपी) मॉडल के तहत राज्य के 12 आईटीआई पर काम चल रहा है। वहीं, केंद्र सरकार की सहमति से विश्व बैंक की मदद से भी आईटीआई को मॉडल के तौर पर विकसित किया जा रहा है। विश्व बैंक संपोषित योजना स्ट्राइव के तहत राज्य के तीन आईटीआई पटना, गया और डेहरी ऑन सोन का चयन किया गया है। इस योजना के तहत तीनों आईटीआई को अत्याधुनिक उपकरणों से लैस किया जा रहा है। स्ट्राइव योजना के तहत तीन और आईटीआई चुने जाने हैं। इसका चयन विभाग जल्द ही करेगा। 


वहीं गया और मुजफ्फरपुर के आईटीआई को प्लम्बरिंग के क्षेत्र में सेंटर ऑफ एक्सेलेंस बनाने पर काम चल रहा है। इसके लिए विभाग ने बीते दिनों जैकवार फाउंडेशन से करार किया। फाउंडेशन की ओर से दोनों शहरों के आईटीआई में पढ़ रहे छात्रों को प्लम्बरिंग के क्षेत्र में अत्याधुनिक तकनीक से प्रशिक्षित किया जा रहा है। 

विभागीय अधिकारियों ने कहा कि मॉडल के अलावा भी अन्य आईटीआई को प्रशिक्षण के उद्देश्य से उन्नत बनाया जा रहा है।  बीते दिनों समीक्षा बैठक में पाया गया कि कुछ सरकारी आईटीआई में पर्याप्त कम्प्यूटर आधारित लैब नहीं हैं। विभाग ने ऐसे 20 आईटीआई की पहचान कर उसे कम्प्यूटर आधारित लैब से सुसज्जित किया है। 50 आईटीआई को चयनित कर वहां के प्रशिक्षणार्थियों को डिजिटल कंटेंट के माध्यम से प्रशिक्षण दिया जा रहा है। एक अन्य योजना के तहत 10 आईटीआई के प्रशिक्षणार्थियों को बाजार की मांग के अनुसार प्रशिक्षण दिया जा रहा है। 


इंस्ट्रक्टरों को दिया गया विशेष प्रशिक्षण 
छात्रों के अलावा आईटीआई में पढ़ाने वाले अनुदेशकों (इंस्ट्रक्टर) को भी प्रशिक्षित किया जा रहा है। सीपेट हाजीपुर के अलावा फ्रॉनियस पुणे के माध्यम से उनको विशेष प्रशिक्षण दिलाया गया है। वहीं 30 अधिकारियों को जमशेदपुर से प्रशिक्षण दिलाया गया है। विभाग देश की कई कंपनियों से भी बातचीत कर रहा है, ताकि उन्हें प्रशिक्षण के दौरान ही ऑन जॉब ट्रेनिंग मिल सके। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:21 government ITI cInstitute of Bihar to be developed as model institute