Monday, January 17, 2022
हमें फॉलो करें :

मध्य प्रदेश बोर्ड

मध्य प्रदेश बोर्ड रिजल्ट 2022

Madhya Pradesh Board of Secondary Education (MPBSE) conducts examinations of 10th and 12th class every year. MP Board 10th Exam 2022 and MP Board 12th Exam 2022 will be held in the month of February March. Every year, approximately 12 lakh students take up 10th school exam and around 8 lakh students take up 12th exam. In year 2020 and 2021, the examination results of class 10 and 12 were declared separately. Last year, MP Board 10th 12th exams were cancelled in the state due to the rise in COVID19 across the country. All the students registered to Class 10 and 12 had promoted. Student were given marks on the basis of and evaluation criteria. Madhya Pradesh government had also conducted MP Board 10th 12th improvement exams in September month for those candidates who are not satisfied with their result. Last Year, MP Board 10th result was declared on 14 July and MP Board 12th result was declared on 29 July. Last year, 100% students had passed the class 10th and 12th exam. Board had not released any merit list or toppers list as the exams had not been conducted and the result was prepared on the basis of evaluation criteria released by the Board. If we talk about MP Board 10th Result 2021, 3.56 lakh students out of 11 lakh had passed MPBSE 10th Result 2021 in first division, 397626 students in the second division and 159871 in the third division. Last year, total of 660682 candidates had registered for Class 12 exams. 52% got first division 40% got second division 7% got third division. In 2022 MP Board will be declare the 10th and 12th exam result in May. Students can check the results of the MP Board 10th and 12th examination on www.livehindustan.com. Apart from this, the results can be checked on the official website of the Board.

मध्य प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन (MPBSE) हर वर्ष 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षा आयोजित करता है। एमपी बोर्ड 10वीं परीक्षा 2022 और एमपी बोर्ड 12वीं परीक्षा 2022 का आयोजन फरवरी-मार्च 2022 में कराया जाएगा। हर वर्ष एमपी बोर्ड 10वीं परीक्षा में करीब 12 लाख और 12वीं की परीक्षा में करीब 8 लाख विद्यार्थी रजिस्ट्रेशन करवाते हैं। पिछले वर्ष कोरोना वायरस के चलते एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं परीक्षाओं को रद्द कर दिया गया था। ऐसे में 10वीं और 12वीं का रिजल्ट मूल्यांकन नीति से जारी किया गया था। परीक्षा न होने और मूल्यांकन नीति से रिजल्ट जारी होने के चलते टॉपरों का ऐलान नहीं किया गया था। मेरिट लिस्ट जारी नहीं हुई थी। वर्ष 2020 और वर्ष 2021 में एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं के नतीजे अलग अलग दिन जारी किए गए थे। एमपी बोर्ड 10वीं का रिजल्ट 14 जुलाई को जबकि एमपी बोर्ड 12वीं का रिजल्ट 29 जुलाई को जारी किया गया था। पिछले वर्ष एमपी बोर्ड 10वीं का रिजल्ट शत प्रतिशत रहा था। कुल 9.14 लाख रेगुलर परीक्षार्थियों ने एग्जाम दिया था। इनमें 39 फीसदी परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में 43.50 फीसदी द्वितीय श्रेणी में एवं 17.48 फीसदी परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में पास हुए। हाईस्कूल परीक्षा में किसी भी परीक्षार्थी को पूरक (कंपार्टमेंट) नहीं दी गई। अगर पिछले साल के एमपी बोर्ड 12वीं के रिजल्ट की बात करें तो रिजल्ट शत प्रतिशत रहा था। 52 फीसदी फर्स्ट डिविजन से, 40 फीसदी सेकेंड डिविजन से और 7 फीसदी थर्ड डिविजन से पास हुए थे। मार्क्स से असंतुष्ट विद्यार्थियों को सितंबर में स्पेशल एग्जाम में बैठकर अपने अंक सुधारने का मौका दिया गया था। एमपी बोर्ड 10वीं 12वीं रिजल्ट मई माह में जारी होने की संभावना है। परीक्षा के नतीजे www.livehindustan.com पर चेक कर सकते हैं। इसके अलावा रिजल्ट बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट पर भी चेक किए जा सकेंगे।

पूरा पढ़ें...