Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़Urban unemployment rises in q4 but more women join the workforce detail is here

बेरोजगारी के मोर्चे पर मामूली राहत, मार्च तिमाही में घटकर 6.7% पर आए आंकड़े

  • पुरुषों में शहरी क्षेत्रों में बेरोजगारी दर मार्च तिमाही में बढ़कर 6.1% हो गई, जो एक साल पहले इसी अवधि में 6% थी। अप्रैल-जून 2023 में यह 5.9%, जुलाई-सितंबर 2023 में छह प्रतिशत और अक्टूबर-दिसंबर 2023 में 5.8% थी।

Deepak Kumar नई दिल्ली, एजेंसी/लाइव हिन्दुस्तान टीमWed, 15 May 2024 09:52 PM
ट्रेड

चुनावी माहौल के बीच बेरोजगारी के मोर्चे पर मामूली राहत मिली है। ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश के शहरी क्षेत्रों में 15 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों में बेरोजगारी दर मार्च तिमाही में घटकर 6.7% रही जबकि एक साल पहले इसी अवधि में यह 6.8% थी। राष्ट्रीय नमूना सर्वे कार्यालय (एनएसएसओ) ने यह जानकारी दी है। बेरोजगारी दर को कुल श्रम बल में बेरोजगार लोगों के प्रतिशत के रूप में परिभाषित किया जाता है। वित्त वर्ष 2022-23 की मार्च तिमाही में बेरोजगारी दर 6.8% थी जबकि पिछले वित्त वर्ष की अप्रैल-जून के साथ जुलाई-सितंबर 2023 तिमाही में यह 6.6% थी। दिसंबर 2023 में यह 6.5% थी।

महिलाओं की 8.5% बेरोजगारी दर

निश्चित अवधि पर होने वाले 22वें श्रम बल सर्वेक्षण (पीएलएफएस) के मुताबिक मार्च 2024 के दौरान शहरी क्षेत्रों में 15 वर्ष और उससे अधिक आयु के लोगों के मामले में बेरोजगारी दर 6.7% थी। आंकड़ों से यह भी पता चला कि शहरी क्षेत्रों में 15 वर्ष से अधिक उम्र की महिलाओं के बीच बेरोजगारी दर जनवरी-मार्च 2024 में घटकर 8.5% रही जो एक साल पहले इसी तिमाही में 9.2 प्रतिशत थी। अप्रैल-जून 2023 में यह 9.1%, जुलाई-सितंबर 2023 में 8.6% और अक्टूबर-दिसंबर 2023 में 8.6% थी।

पुरुषों की बेरोजगारी दर

पुरुषों में शहरी क्षेत्रों में बेरोजगारी दर मार्च तिमाही में बढ़कर 6.1% हो गई, जो एक साल पहले इसी अवधि में 6% थी। अप्रैल-जून 2023 में यह 5.9%, जुलाई-सितंबर 2023 में छह प्रतिशत और अक्टूबर-दिसंबर 2023 में 5.8% थी।

शहरी क्षेत्रों में 15 वर्ष और उससे अधिक आयु के लोगों के लिए वर्तमान साप्ताहिक स्थिति (सीडब्ल्यूएस) में श्रम बल भागीदारी दर मार्च तिमाही में बढ़कर 50.2 प्रतिशत हो गई। यह एक साल पहले इसी अवधि में 48.5 प्रतिशत थी। एनएसएसओ के अनुसार अप्रैल-जून 2023 में यह 48.8 प्रतिशत, जुलाई-सितंबर 2023 में 49.3 प्रतिशत और अक्टूबर-दिसंबर 2023 में 49.2 प्रतिशत थी।

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें