Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़Sugar companies Stocks rallied up to 12 Percent on MSP raising reports

शुगर कंपनियों के शेयरों में तूफानी तेजी, मोदी सरकार दे सकती है बड़ा तोहफा

  • शुगर कंपनियों के शेयर शुक्रवार को 12% तक चढ़ गए हैं। कंपनियों के शेयरों में यह उछाल उन रिपोर्ट्स के बाद आया है, जिनमें कहा गया है कि सरकार 2024-25 शुगर सीजन के लिए चीनी का MSP बढ़ाने पर विचार कर रही है।

Vishnu लाइव हिन्दुस्तानThu, 13 June 2024 01:25 PM
पर्सनल लोन

शुगर कंपनियों के शेयरों में गुरुवार को जबरदस्त उछाल आया है। शुगर कंपनियों के शेयर गुरुवार को 12 पर्सेंट तक उछल गए हैं। शुगर कंपनियों के शेयरों में यह तेजी उन रिपोर्ट्स के बाद आई है, जिनमें कहा गया है कि सरकार 2024-25 शुगर सीजन के लिए चीनी का मिनिमम सेल प्राइस (MSP) बढ़ाने पर विचार कर रही है। श्री रेणुका शुगर्स, उगर शुगर वर्क्स, बजाज हिन्दुस्तान शुगर, बलरामपुर चीनी मिल्स, धामपुर शुगर मिल्स जैसी शुगर कंपनियों के शेयर शुक्रवार को 12 पर्सेंट तक चढ़ गए हैं।

12% से ज्यादा चढ़ गए श्री रेणुका शुगर्स के शेयर
श्री रेणुका शुगर्स के शेयर गुरुवार को 12 पर्सेंट से अधिक की तेजी के साथ 49.49 रुपये पर पहुंच गए हैं। बजाज हिन्दुस्तान शुगर लिमिटेड के शेयरों में 11 पर्सेंट के करीब उछाल आया है और कंपनी के शेयर 40.42 रुपये पर जा पहुंचे हैं। वहीं, उगर शुगर वर्क्स लिमिटेड के शेयर 8 पर्सेंट की तेजी के साथ 88.50 रुपये पर पहुंच गए हैं। बलरामपुर चीनी मिल्स के शेयरों में 4%, धामपुर शुगर मिल्स के शेयरों में 6%, राणा शुगर्स के स्टॉक्स में 8% का उछाल आया है।

करोड़ों किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी, पीएम किसान की 17वीं किस्त की डेट का ऐलान

एक्सपर्ट्स को शॉर्ट टर्म में अच्छे परफॉर्मेंस की उम्मीद
शुगर स्टॉक्स में पिछले एक महीने से तेजी का रुख बना हुआ है। शुगर कंपनियों के शेयर 10-20% की रेंज में बढ़े हैं। 5पैसा के लीड रिसर्च एनालिस्ट रुचित जैन का कहना है कि यह सेक्टर पिछले कुछ महीनों में लंबे कंसॉलिडेशन फेज से गुजरा है। जैन का कहना है, 'हालांकि, अब स्टॉक्स में अच्छे वॉल्यूम्स के साथ कंसॉलिडेशन ब्रेकआउट देखने को मिल रहा है। ऐसे में हमारा मानना है कि शॉर्ट टर्म में सेक्टर अच्छा करेगा।' इंफॉर्मिस्ट की एक न्यूज रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार अक्टूबर से शुरू होने वाले अगले सीजन के लिए चीनी का मिनिमम सेलिंग प्राइस बढ़ाने पर विचार कर रही है। साल 2019 से ही चीनी का मिनिमम सेलिंग प्राइस 31 रुपये प्रति किलो पर बना हुआ है, इसमें कोई बदलाव नहीं हुआ है।

बिक गई कर्ज में डूबी यह कंपनी, अब सभी इंडेक्स से हटाए जाएंगे शेयर, ₹1.27 था भाव

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें