Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़Zee CEO Punit Goenka on Sony scrapping merger Sign from the Lord - Business News India

अयोध्या में मिला मैसेज... सोनी-ज़ी डील कैंसिल होने पर बोले पुनीत गोयनका

Sony-Zee Merger Deal Cancel: जापान के सोनी ग्रुप कार्पोरेशन के भारतीय कारोबार कल्वर मैक्स एंटरटेनमेंट ने ज़ी एंटरटेनमेंट के साथ विलय समझौते को समाप्त कर दिया है।

Varsha Pathak लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीMon, 22 Jan 2024 03:29 PM
हमें फॉलो करें

Sony-Zee Merger Deal Cancel: सोनी ग्रुप कार्पोरेशन ने ज़ी एंटरटेनमेंट के साथ विलय समझौते को समाप्त कर दिया है। इस संबंध में सोनी ग्रुप ने ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज को आधिकारिक तौर पर टर्मिनेशन लेटर भेज दिया है। इस बीच, अब ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज के सीईओ पुनीत गोयनका ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है और इसे 'भगवान का संकेत' बताया है। 

गोयनका ने क्या कहा?
गोयनका ने एक्स पर पोस्ट में लिखा है,  'जैसे ही मैं आज सुबह प्राण प्रतिष्ठा के शुभ अवसर पर अयोध्या पहुंचा, मुझे एक मैसेज मिला कि जिस डील की कल्पना करने और काम करने में मैंने दो साल बिताए हैं, वह मेरे सर्वोत्तम और सबसे ईमानदार प्रयासों के बावजूद विफल हो गया है। मेरा मानना ​​है कि यह प्रभु का संकेत है।' ज़ी सीईओ ने सोशल मीडिया पोस्ट में कहा, 'मैं सकारात्मक रूप से आगे बढ़ने और भारत की प्रमुख एम एंड ई कंपनी को उसके सभी हितधारकों के लिए मजबूत करने की दिशा में काम करने का संकल्प लेता हूं।' 

सोनी ग्रुप ने क्या कहा?
सोनी ग्रुप कॉर्पोरेशन ने एक बयान में कहा, 'सोनी ग्रुप कॉर्पोरेशन की पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी कंपनी एसपीएनआई ने आज एक नोटिस जारी कर एसपीएनआई और ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड (जेडईईल) द्वारा जेडईईल के एसपीएनआई में विलय से संबंधित निश्चित समझौतों को समाप्त कर दिया है, जिसकी घोषणा 22 दिसंबर 2021 को गई थी।'  समझौते के तहत विलय 21 दिसंबर 2023 से पहले पूरा किया जाना था। इसमें लेनदेन को पूरा करने के लिए एक महीने के अतिरिक्त समय के साथ नियामक से तथा अन्य अनुमति हासिल करना शामिल था। इस समझौते से देश में 10 अरब अमेरिकी डॉलर का मीडिया उद्यम बन खड़ा होने की उम्मीद थी। 

डील कैंसिल की वजह
बता दें कि इस डील में सबसे बड़ा पेच पुनीत गोयनका के पद संभालने को लेकर था। सोनी ग्रुप पुनीत गोयनका को मर्जर के बाद वजूद में आने वाली कंपनी का नेतृत्व करने देने के पक्ष में नहीं था। सोनी ग्रुप का कहना था कि पुनीत गोयनका सेबी की जांच का सामना कर रहे हैं और उन पर कई तरह की पाबंदियां लगी हुई हैं। वहीं, जी एंटरटेनमेंट इस बात पर जोर दे रहा था कि साल 2021 के मर्जर समझौते के अनुसार गोयनका नई इकाई का नेतृत्व करेंगे। बाजार नियामक सेबी द्वारा गोयनका को कोष दुरुपयोग मामले में किसी भी कंपनी में प्रबंधकीय पद संभालने से रोक दिए जाने के बाद सोनी ग्रुप ने सवाल उठाए थे।गोयनका को इस मामले में प्रतिभूति अपीलीय न्यायाधिकरण से राहत मिल गई है लेकिन दोनों पक्ष किसी सहमति पर नहीं पहुंच पाए हैं।
 

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें