DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिजनेस › विश्व के नेताओं ने दावोस एजेंडा शिखर सम्मेलन में पर्यावरण संरक्षण के लिए सहयोग का आह्वान किया
बिजनेस

विश्व के नेताओं ने दावोस एजेंडा शिखर सम्मेलन में पर्यावरण संरक्षण के लिए सहयोग का आह्वान किया

एजेंसी,नई दिल्ली दावोसPublished By: Karishma Singh
Wed, 27 Jan 2021 10:32 AM
विश्व के नेताओं ने दावोस एजेंडा शिखर सम्मेलन में पर्यावरण संरक्षण के लिए सहयोग का आह्वान किया

विश्व इकॉनोमिक फोरम (डब्ल्यूईएफ) के ऑनलाइन दावोस एजेंडा शिखर सम्मेलन में दुनिया के शीर्ष नेताओं ने अंतर्राष्ट्रीय सहयोग और पर्यावरण संरक्षण के लिए जरूरी कदमों का आह्वान किया।इसमें वैश्विक अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने के रास्ते पर भी चर्चा की गई। इस साल कोविड-19 महामारी के कारण वर्ल्ड इकोनॉमिक फ़ोरम के इस इवेंट को स्विस इको रिज़ॉर्ट टाउन ऑफ़ दावोस में हजारों प्रभावशाली और शक्तिशाली लोगों की एक भौतिक मण्डली के बजाय ऑनलाइन अवतार लेना पड़ा। जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने कहा, "वैश्विक लिंक और वैश्विक प्रतिबद्धताओं का मतलब है कि हमें इस बात में दिलचस्पी है कि दुनिया के बाकी हिस्सों में किस तरह का प्रभाव है।"

हमें बदलने होंगे जीने के तरीके

सप्ताह भर चलने वाले इस वर्चुअल कार्यक्रम में अपने विशेष संबोधन में, फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन ने कहा कि कल की अर्थव्यवस्था को नवाचार और मानवता के बारे में सोचना होगा। यूरोपीय यूनियन की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने कहा, "हमें इस संकट से सीखना चाहिए। हमें अपने जीने के तरीके को बदलना होगा और व्यापार करने में सक्षम होना होगा ताकि हम अपने मूल्यों को बचा कर रख सकें।" दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा ने भी शिखर सम्मेलन को संबोधित किया और सुझाव दिया कि " इसका मकसद उस दुनिया को वापस करने के लिए नहीं है जहां यह महामारी हुई थी, बल्कि एक नया रास्ता और एक नया डिजाइन बनाने के लिए है।"

5जी से पहले बजट में टेलीकॉम कंपनियों को राहत देने की तैयारी, लाइसेंस फीस में कटौती की उम्मीद

विश्वभर के शीर्ष बिजनेस लीडर्स हुए शामिल

इस सम्मेलन में भारत के मुकेश अंबानी और आनंद महिंद्रा सहित वैश्विक स्तर पर 61 शीर्ष बिजनेस लीडर्स शामिल हुए। जिन्होंने स्टेकहोल्डर कैपिटलिज्म मेट्रिक्स के लिए अपनी प्रतिबद्धता की घोषणा की जिसके अंतर्गत पर्यावरण, सामाजिक और शासन (ईएसजी) मैट्रिक्स शामिल हैं। विश्व के नेताओं ने अधिक से अधिक सहयोग का आह्वान किया। यूरोपीय संघ की अध्यक्ष वॉन डेर लेयेन ने "जैव-विविधता के लिए पेरिस-शैली समझौते" का आह्वान किया।  उन्होंने चेतावनी दी कि जलवायु परिवर्तन और महामारी से लेकर सोशल मीडिया शासन की कमी तक लोकतंत्र के लिए एक चुनौती है साथ ही उन्होंने काम करने के पुराने तरीकों की सीमाएं भी बताईं।

संबंधित खबरें