DA Image
17 जनवरी, 2020|6:49|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आधार नंबर से ITR फाइल करने वाले टैक्सपेयर्स का अपने आप बन जाएगा PAN, बदल गए हैं नियम

pan card-aadhar link

आयकर विभाग आधार संख्या का उपयोग कर रिटर्न दाखिल करने वाले करदाताओं को स्वत: स्थायी खाता संख्या (PAN) जारी कर देगा। यह दोनों डाटाबेस को जोड़ने की नयी व्यवस्था का हिस्सा है।

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) की 30 अगस्त की अधिसूचना के अनुसार यदि कोई व्यक्ति आधार का उपयोग कर रिटर्न दाखिल करता है और उसके पास पैन संख्या नहीं है तो यह मान लिया जाएगा कि उसने पैन जारी करने के लिए आवेदन कर दिया है। इसके बाद उसे कोई और दस्तावेज दाखिल करने की जरूरत नहीं होगी।
यह नियम एक सितंबर से प्रभावी हो गया है। अधिसूचना में कहा गया है कि कर विभाग पैन संख्या आवंटित करने के लिए 'आधार से व्यक्ति की अन्य जनांकिक जानकारी जुटा लेगा।

सीबीडीटी, आयकर विभाग के लिए नीति निर्धारण करने वाला शीर्ष निकाय है। सीबीडीटी के चेयरमैन पी. सी. मोदी ने जुलाई में एक साक्षात्कार में कहा था कि विभाग खुद से उस व्यक्ति को एक नई पैन संख्या आवंटित कर देगा जो रिटर्न दाखिल करते समय आधार का उपयोग करेगा। यह दोनों डाटाबेस को आपस में जोड़ने की नयी व्यवस्था का हिस्सा है।
Bank Holiday in September: सितंबर में इतने दिन बंद रहेंगे बैंक, जानें पूरी लिस्ट 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Taxpayers filed ITR with aadhar will automatically get PAN number