DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कर सलाह : लाभांश को इनकम मान टैक्स रिटर्न में दिखाना जरूरी

ITR

प्रश्न : मेरी आयु 75 वर्ष है। पेंशन के अतिरिक्त मेरी अधिकांश आय म्यूचुअल फंड, लाभांश को फिर से निवेश और ग्रोथ स्कीम से होती है। लाभांश को फिर से निवेश और ग्रोथ स्कीम से प्राप्त लाभांश को आयकर की गणना करते समय आय मान कर रिटर्न में दर्शाया जाए या नहीं। अगर आय मान कर रिटर्न मे दर्शाया जाना है तो ग्रोथ स्कीम की आय की गणना किस प्रकार की जाएगी। साथ ही सभी स्रोतों से प्राप्त कर मुक्त लाभांश की मेरे मामले में अधिकतम छूट सीमा वित्तीय वर्ष 2018-19 की आय हेतु क्या है? (प्रेम कुमार, जौनपुर)

उत्तर : लाभांश को फिर से निवेश और ग्रोथ स्कीम से प्राप्त लाभांश को आयकर की गणना करते समय आय मान कर रिटर्न में दर्शाया जाना चाहिए। ग्रोथ स्कीम के तहत कंपनी आपको लाभांश का भुगतान नहीं करती लेकिन घोषित लाभांश के एवज में आपको म्यूचुअल फंड की अतिरिक्त यूनिट एनएवी आवंटित करती है। इसलिए जितनी अतिरिक्त यूनिट आपके खाते में जमा की गई है उसे उस समय की एनएवी से गुणा करेंगे तो आपको लाभांश आय का पता लग जाएगा । सभी स्त्रोतों से प्राप्त कर मुक्त लाभांश की अधिकतम छूट सीमा 10 लाख रुपये तक की है। 10 लाख से 
अधिक की प्राप्ति पर, अधिक राशि पर 10 फीसदी की दर से कर देय होता है। लाभांश आय आयकर की धारा10(34)के अंतर्गत कर मुक्त होती है।

कर सलाह : सालाना आय के हिसाब से ही ITR भरें

प्रश्न : मैं इंडियन बैंक से सेवामुक्त हुआ हूं। वर्ष 2009-10 और 2010-2011 के तहत बैंक ने मेरे वेतन से टीडीएस काट कर भुगतान किया जो कि अभी तक फॉर्म-26एएस में दिखाई नहीं दे रहा। अनेक बार आग्रह करने पर भी बैंक ने इसे ठीक नहीं किया। इस कारण से आयकर अधिकारी मेरा मूल्यांकन पूरा नहीं कर रहा है। (डी.के. अग्रवाल, फरीदाबाद)
उत्तर : आपको बैंक से संबधित वित्त वर्ष के फॉर्म-16 प्राप्त हुए होंगे। आप आयकर अधिकारी से कहिए कि फॉर्म-16 के आधार पर आपकी आय का कर निर्धारण करें। अगर किसी बात का संशय है तो आयकर अधिकारी संबधित बैंक से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसमें आपकी कोई गलती नहीं है। 

प्रश्न : मेरी पुत्री की शादी नेपाल में हुई है। अब तक उसका आयकर  भारतीय निवासी के तौर पर भरा जा रहा था। आय केवल बैंक सावधि जमा (एफडी) से और कर योग्य है। नेपाल में आय शुन्य है और उत्तर : कोई संपति भी नहीं है। वह पूर्व की तरह रिटर्न भरते रहें या किसी प्रकार का परिवर्तन करना पड़ेगा। (सतीश चन्द्र, बहराइच)
अब आप अपनी पुत्री का स्टेटस अनिवासी भारतीय करते हुए आयकर विवरणी भरें। 

प्रश्न : मेरी कर निर्धारण वर्ष 2019- 2020 की बैलेंस सीट के अंदर 18 लाख रुपये से अधिक जमा है। क्या में उसे अब अपने बचत खाते में जमा कर सकता हूं। (विपिन कुमार गोयल, दिल्ली)
उत्तर : अगर आपकी की बैलेंस सीट के अंदर 18 लाख रुपये से अधिक जमा है और उसे आपने अपनी आयकर विवरणी जमा करते समय दर्शाया है तो फिर आप बिना किसी डर के अपने बचत खाते में जमा कर सकते हैं । ऐसे में आप पर कोई जुर्माना या अतिरिक्त कर नहीं लगेगा। लेकिन, आयकर अधिकारी चाहे तो आवश्यकता पड़ने पर इस नकदी का स्रोत पूछ सकता है। आपको आयकर अधिकारी को आपको बताना होगा। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Tax Advice You Have To Show Your Dividend Income in Income Tax Return