DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिजनेस › घाटे में है टाटा की ये कंपनी, चेयरमैन चंद्रशेखरन ने बताया आगे का प्लान
बिजनेस

घाटे में है टाटा की ये कंपनी, चेयरमैन चंद्रशेखरन ने बताया आगे का प्लान

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीPublished By: Deepak Kumar
Sat, 31 Jul 2021 04:12 PM
घाटे में है टाटा की ये कंपनी, चेयरमैन चंद्रशेखरन ने बताया आगे का प्लान

बीते कुछ सालों से ऑटो इंडस्ट्री की दिग्गज कंपनी टाटा मोटर्स घाटे में है। हालांकि, कंपनी के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन को उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2024 तक टाटा मोटर्स कर्ज मुक्त हो जाएगी। चंद्रशेखरन ने कहा कि हम अपने कर्जमुक्त होने के लक्ष्य पर अब भी कायम हैं। आपको बता दें कि कोरोना काल से पहले टाटा मोटर्स ने वित्त वर्ष 2024 तक कर्जमुक्त होने का लक्ष्य रखा था।  

28,900 करोड़ रुपए निवेश:  इसके साथ ही टाटा मोटर्स के चेयरमैन चंद्रशेखरन ने बताया कि कंपनी चालू वित्त वर्ष में 28,900 करोड़ रुपए निवेश करेगी। यह निवेश घरेलू कारोबार के साथ मुख्य रूप से समूह की ब्रिटिश इकाई जगुआर लैंड रोवर में किया जाएगा।

कंपनी के निवेश से जुड़े एक शेयरधारक के सवाल के जवाब में चंद्रशेखरन ने कहा, ‘‘वित्त वर्ष 2021-22 में 28,900 करोड़ रुपए निवेश किया जाएगा। यह 2020-21 में 19,800 करोड़ रुपए था। चालू वित्त वर्ष के कुल निवेश में 3,000 से 3,500 करोड़ रुपए टाटा मोटर्स में जबकि 2.5 अरब पौंड जेएलआर में लगाया जाएगा।’’

इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए योजना: उन्होंने कहा कि टाटा मोटर्स इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए उपयुक्त समय पर अलग से पूंजी जुटाने पर गौर करेगी। कंपनी का कुल बिक्री में ईवी का योगदान 25 फीसदी हासिल करने का लक्ष्य है। अभी यह फिलहाल 2 फीसदी है। चंद्रशेखर ने बताया कि हम 2025 से पहले कम-से-कम 10 मॉडल पेश करेंगे। हमारा इस क्षेत्र में काफी आक्रमक तरीके से आगे बढ़ने की योजना है।

राकेश झुनझुनवाला की नई एयरलाइन कंपनी से बदलेगी Boeing की किस्मत, जानिए कैसे

चंद्रशेखरन ने कहा कि हाइड्रोजन फ्यूल सेल में भी निवेश कर रहे हैं और हमें इंडियन ऑयल से ऐसे 15 वाहनों का पहला आर्डर भी मिला है। हाइड्रोजन फ्यूल सेल के क्षेत्र में काफी काम हो रहा है।

संबंधित खबरें