Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़stock watch 29 january why adani power vedanta hdfc banks are in the news

आज अडानी पावर से लेकर वेदांता तक पर रखें नजर, जानें खबरों में क्यों है स्टॉक्स

Stock Watch Today: वेदांता के लाभ में 18.3% की कमी हुई है तो अडानी पावर का मुनाफा 300 गुना से अधिक बढ़कर ₹ 2,738 करोड़ हो गया है। ऐसे कई स्टॉक्स हैं, जो इन खबरों से आज इन पर निवेशकों की नजर रहेगी।

Drigraj Madheshia लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीMon, 29 Jan 2024 08:51 AM
हमें फॉलो करें

एचडीएफसी बैंक में एलआईसी ने हिस्सेदारी बढ़़ाई है तो टाटा टेक का मुनाफा बढ़ा है। वेदांता के लाभ में 18.3% की कमी हुई है तो अडानी पावर का मुनाफा 300 गुना से अधिक बढ़कर ₹ 2,738 करोड़ हो गया है। ऐसे कई स्टॉक्स हैं, जो इन अपडेट्स की वजह से आज इन पर निवेशकों की नजर रहेगी।

एचडीएफसी बैंक: एलआईसी को एचडीएफसी बैंक में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाकर 9.99% करने के लिए आरबीआई की मंजूरी मिल गई है। अभी एलआईसी के पास 5.19% हिस्सेदारी है। इसका मूल्य लगभग ₹50,000 करोड़ है।

अडानी पावर : कंपनी का कंसॉलिडेटेड नेट प्रॉफिट दिसंबर तिमाही में 300 गुना से अधिक बढ़कर ₹ 2,738 करोड़ हो गया, जो एक साल पहले ₹ 8.8 करोड़ था। रेवेन्यू भी साल-दर-साल आधार पर 67.3% बढ़कर ₹12,991.4 करोड़ हो गया।

सांघी इंडस्ट्रीज: दिसंबर तिमाही में शुद्ध घाटा एक साल पहले के ₹118 करोड़ से बढ़कर ₹201 करोड़ हो गया है। नेट सेल 42.4% बढ़कर ₹189.1 करोड़ हो गई, लेकिन खर्च 31.8% बढ़कर ₹332.6 करोड़ हो गया। उच्च वित्त लागत के कारण एबिटा घाटा भी पिछले साल के ₹18.8 करोड़ से बढ़कर ₹22.8 करोड़ हो गया।

टाटा टेक्नोलॉजीज: फर्म ने दिसंबर तिमाही में समेकित लाभ में साल-दर-साल आधार पर 14.7% की बढ़ोतरी दर्ज की है, जो ₹170.22 करोड़ थी। ऑपरेशन से राजस्व 14.7% बढ़कर ₹1,289.5 करोड़ हो गया।

वेदांता:  अच्छे आंकड़ों के बावजूद दिसंबर तिमाही में लाभ में 18.3% की कमी के साथ ₹2,013 करोड़ की गिरावट दर्ज की, जिसका आंशिक कारण बढ़ी हुई वित्तीय लागत है। ऑपरेशन से राजस्व 4.2% बढ़कर ₹35,541 करोड़ हो गया।

लौरस लैब्स: कंपनी ने भारत सहित नए बाजारों के लिए तैयार उत्पादों के उत्पादन के लिए केआरकेए, स्लोवेनिया के साथ एक समझौता किया है।

कैप्री ग्लोबल: बोर्ड ने 1:1 के अनुपात में बोनस शेयर जारी करने को मंजूरी दे दी है। इसने 1:2 के रेश्यो में इक्विटी शेयरों के बांटने को भी मंजूरी दे दी है। अब ₹2 के फेस वैल्यू वाले एक शेयर को ₹1 के फेस वैल्यू वाले दो शेयरों में डिवाइड किया जाएगा।

(डिस्‍क्‍लेमर: विशेषज्ञों द्वारा दी गई सिफारिशें, सुझाव, विचार और राय उनके अपने हैं, लाइव हिन्दुस्तान के नहीं। यहां सिर्फ शेयर के परफॉर्मेंस की जानकारी दी गई है, यह निवेश की सलाह नहीं है। शेयर बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन है और निवेश से पहले अपने एडवाइजर से परामर्श कर लें।)

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें