DA Image
23 सितम्बर, 2020|4:35|IST

अगली स्टोरी

शेयर बाजार में मजबूती: सेंसेक्स 39300 और निफ्टी 11600 के पार बंद

stock market  sensex and nifty

शेयर बाजार आज बढ़त के साथ बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 258.50 अंकों की तेजी के साथ 39,302.85 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक निफ्टी भी हरे निशान के साथ बुधवार के कारोबार को विराम दिया। आज निफ्टी 82 अंक उछलकर 11604 पर बंद हुआ।  बता दें सुबह सेंसेक्स 116 अंकों की बढ़त के साथ 39,161.01 के स्तर पर खुला। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 11,538.45 पर खुला था। आज निफ्टी 50 के 29 स्टॉक्स फायदे और 19 नुकसान के सथ बंद हुए।

वहीं घरेलू शेयर बाजार में तेजी और अमेरिकी मुद्रा के कमजोर रुख के चलते रुपया बुधवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 12 पैसे बढ़कर 73.52 (अनंतिम) के स्तर पर बंद हुआ। इस बीच ब्रेंट क्रूड वायदा 2.44 फीसदी बढ़कर 41.52 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।

             सेंसेक्स

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 12 पैसे बढ़कर 73.52 पर बंद

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले स्थानीय मुद्रा में भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिला। रुपया 73.70 पर खुला और इसमें आगे गिरावट हुई, हालांकि अंत में भारतीय मुद्रा अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.52 के स्तर पर सकारात्मक रुख के साथ बंद हुई। इस तरह रुपये ने पिछले बंद भाव 73.64 के मुकाबले 12 पैसे की बढ़त दर्ज की। दिन के कारोबार में रुपये ने डॉलर के मुकाबले 73.48 का ऊपरी स्तर और 73.78 का निचला स्तर छुआ। इसबीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.12 प्रतिशत गिरकर 92.94 पर आ गया। 
  
बकाया राशि का भुगतान नहीं होने से ओएनजीसी ने सूडान छोड़ा

तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) ने सूडान के ऑयलफील्ड को छोड़ दिया है। कंपनी ने यह फैसला अफ्रीकी देश के तेल लेने के बाद भुगतान करने से इनकार करने के चलते किया। कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि ओएनजीसी विदेश लिमिटेड (ओवीएल) के साथ ही उसकी चीनी साझेदार सीएनपीसी और मलेशिया की पेट्रोनैस ने भी ब्लॉक से खुद को अलग कर लिया है। 

यह भी पढ़ें: शेयर बाजार की मजबूत शुरुआत, 39000 के पार खुला सेंसेक्स

सूडान में ब्लॉक 2ए और 4 में ओवीएल की 25 प्रतिशत हिस्सेदारी थी, जबकि सीएनसीपी की 40 प्रतिशत और पेट्रोनैस की 30 प्रतिशत हिस्सेदारी थी। ब्लॉक में सूडान के सुडापेट की पांच प्रतिशत हिस्सेदारी थी।  सूडान ने 2011 के बाद से ओवीएल और ब्लॉक में उसके साझेदारों को भुगतान नहीं किया था। अधिकारी ने कहा कि सूडान पर ओवीएल का कुल बकाया 43.06 करोड़ अमेरिकी डॉलर है।  उन्होंने कहा कि कंपनी ने सूडान सरकार के खिलाफ बकाया वसूलने के लिए मध्यस्थता कार्यवाही शुरू की और ईपीएसए को खत्म कर दिया है।

स्टर्लिंग एंड विल्सन सोलर का मुनाफा 62 प्रतिशत घटा

स्टर्लिंग एंड विल्सन लिमिटेड ने बुधवार को कहा कि जून 2020 तिमाही के दौरान आय में कमी के चलते उसकी संचयी शुद्ध आय 62 प्रतिशत घटकर 17.22 करोड़ रुपये रह गई है।     कंपनी ने शेयर बाजार को बताया कि एक साल पहले 30 जून 2019 को समाप्त तिमाही के दौरान उसकी शुद्ध आय 46.01 करोड़ रुपये थी। कंपनी ने बताया कि समीक्षाधीन तिमाही के दौरान उसकी कुल आय वर्ष दर वर्ष आधार पर 1,309.34 करोड़ रुपये से घटकर 1,099.38 करोड़ रुपये रह गई। 

राजेश एक्सपोर्ट का मुनाफा 50 प्रतिशत घटकर 152.13 करोड़ रुपये हुआ

सोने का शोधन करने वाली कंपनी राजेश एक्सपोर्ट ने बताया कि 30 जून 2020 को समाप्त तिमाही के दौरान उसका शुद्ध लाभ 49.61 प्रतिशत गिरकर 152.13 करोड़ रुपये हो गया।  कंपनी ने बताया कि एक साल पहले इसी अवधि में उसका शुद्ध लाभ 301.94 करोड़ रुपये था। कंपनी ने बताया कि समीक्षाधीन तिमाही में उसकी कुल परिचालन आय 46,054.55 करोड़ रुपये रही, जो पिछले वित्त वर्ष की पहली तिमाही के 40,622.52 करोड़ रुपये के मुकाबले 13.37 प्रतिशत अधिक है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Stock market strength Sensex 39300 and Nifty closed above 11600