Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़Stock market slipped on opening Sensex below 37600 and Nifty 11100

शेयर बाजार: सेंसेक्स 129 अंक लुढ़का, निफ्टी 11100 के नीचे बंद, एसबीआई का मुनाफा बढ़ा, IOC का घटा

जुलाई महीने के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 129.18 गिरकर 37,606.89 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल...

Drigraj Madheshia एजेंसी, नई दिल्लीFri, 31 July 2020 03:48 PM
हमें फॉलो करें

जुलाई महीने के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 129.18 गिरकर 37,606.89 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 28.70 अंकों के नुकसान के साथ 11,073.45 के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स में सबसे ज्यादा बढ़त सन फार्मा के शेयरों में देखी गई। आज यह 5.30 फीसद की तेजी के साथ 537 रुपये पर बंद हुआ। वहीं एसबीआई के पहली तिमाही के नतीजे बेहतर आने के कारण इसके शेयरों में करीब पौने तीन फीसद की तेजी देखने को मिली। वहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज का स्टॉक 1.83 फीसद नुकसान के साथ 2070 रुपये पर बंद हुआ। वहीं डॉलर में कमजोरी के रुख के बीच शुक्रवार को रुपया तीन पैसे की बढ़त के साथ 74.81 (अस्थायी) प्रति डॉलर पर बंद हुआ। 

आईओसीएल का पहली तिमाही का शुद्ध लाभ 47 प्रतिशत घटकर 1,910.84 करोड़ रुपये

देश की सबसे बड़ी पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईओसीएल) का चालू वित वर्ष की जून में समाप्त पहली तिमाही का शुद्ध लाभ 47 प्रतिशत घट गया है। कोविड-19 महामारी की वजह से ईंधन की मांग प्रभावित होने से कंपनी का रिफाइनिंग मार्जिन घटा है, जिसकी वजह से उसका मुनाफा नीचे आया है।  शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कंपनी ने कहा कि तिमाही के दौरान उसका एकल शुद्ध लाभ 46.8 प्रतिशत घटकर 1,910.84 करोड़ रुपये या 2.08 रुपये प्रति शेयर रहा। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी का एकल शुद्ध लाभ 3,596.11 करोड़ रुपये या 3.92 रुपये प्रति शेयर रहा था। 

आईओसी की बिक्री 29 प्रतिशत घटकर 1.52 करोड़ टन रही

पहली तिमाही में ज्यादातर समय कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन में रहा। इस दौरान वाहनों की आवाजाही पर अंकुश था। इससे तिमाही के दौरान आईओसी की बिक्री 29 प्रतिशत घटकर 1.52 करोड़ टन रही।  तिमाही के दौरान कंपनी की रिफाइनरियों ने 25 प्रतिशत कम यानी 1.29 करोड़ टन कच्चे तेल का प्रसंस्करण किया। कंपनी ने कहा कि तिमाही के दौरान उसे प्रत्येक एक बैरल कच्चे तेल के प्रसंस्करण पर 1.98 डॉलर का घाटा हुआ। 

कंपनी ने कहा, ''देश-दुनिया में कोरोना वायरस महामारी फैलने से कारोबारी और आर्थिक गतिविधियां प्रभावित हुईं। भारत में इस महामारी पर अंकुश के लिए 25 मार्च को लॉकडाउन लगाया था। इससे कच्चे तेल की वैश्विक मांग प्रभावित हुई तथा आपूर्ति श्रृंखला में बाधा आई। इस दौरान कंपनियों को लघु अवधि के लिए अपना परिचालन घटाना पड़ा या पूरी तरह बंद करना पड़ा। जून तिमाही में कंपनी की परिचालन आय घटकर 88,936.54 करोड़ रुपये रह गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 1,50,136.70 करोड़ रुपये रही थी।  कंपनी ने कहा कि अप्रैल में राष्ट्रव्यापी बंद की वजह से उसकी बिक्री बुरी तरह प्रभावित हुई। इस दौरान संयंत्रों ने भी कम क्षमता पर परिचालन किया। हालांकि, जून तक यह बहुत हद तक सामान्य स्थिति में आ गई। 

सुबह का हाल

शुक्रवार को शेयर बाजार मजबूती के साथ खुला। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 111.81 की तेजी के साथ 37,847.88 के स्तर पर खुला। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी आज अपने कारोबार की शुरुआत हरे निशान से की, लेकिन चंद मिनट बाद ही सेंसेक्स और निफ्टी दोनों लाल निशान पर कारोबार करने लगे। शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स की कंपनियों में एचडीएफसी का शेयर करीब दो प्रतिशत के नुकसान में था। कोटक बैंक, एचडीएफसी बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा स्टील और नेस्ले इंडिया के शेयर भी नुकसान में चल रहे थे।  वहीं दूसरी ओर एचसीएल टेक, टीसीएस, एसबीआई, इन्फोसिस, सनफार्मा और टेक महिंद्रा के शेयर लाभ में थे। 


गुरुवार का हाल: बैंकिंग शेयरों के दबाव से सेंसेक्स 335 अंक टूटा

वैश्विक स्तर पर कमजोर रुख के बीच वित्तीय कंपनियों के शेयरों में बिकवाली से बीएसई सेंसेक्स बृहस्पतिवार को 335 अंक लुढ़क गया। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेसेंक्स 335 अंक यानी 0.88 प्रतिशत की गिरावट के साथ 37,736 अंक पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 101 अंक यानी 0.90 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,102 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक नुकसान इंडसइंड बैंक को हुआ। इसमें 5 प्रतिशत से अधिक की गिरावट आयी। इसके अलावा एचडीएफसी, एक्सिस बैंक, पावरग्रिड, एसबीआई, बजाज फिनसर्व और भारती एयरटेल में भी गिरावट दर्ज की गयी। दूसरी तरफ सन फार्मा, मारुति, इन्फोसिस और रिलायंस इंडस्ट्रीज में तेजी रही।  

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें