DA Image
2 जून, 2020|11:52|IST

अगली स्टोरी

शेयर बाजार में सुनामी, सेंसेक्स 3934 अंक लुढ़का, निफ्टी 8000 के नीचे बंद, इतिहास की सबसे बड़ी गिरावट

दुनियाभर में कोरोना के 3 लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं। अब तक इससे 13 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। ग्लोबल मार्केट में भी कोहराम मच गया है। यह कोहराम अब भारतीय शेयर बाजार में सुनामी ला चुका है। सेंसेक्स 3934 अंक का गोता लगाकर 25,981.24 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 1110 अंक डूब कर 7634 के स्तर पर बंद हुआ। देशभर के कई शहरों लॉकडाउन का असर से शेयर बाजार भी 'लॉक' और डाउन हो रहा है। बता दें  बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक 2307 अंकों भी भारी गिरावट के साथ 27608 के स्तर पर खुला तो वहीं निफ्टी में भारी गिरावट देखी जा रही है। आज 10 फीसद से ज्यादा गिरावट होने के बाद शेयर बाजार में लोअर सर्किट लगा और कारोबार 45 मिनट तक ' लॉक' यानी बंद रहा।

शेयर बाजार की दस बड़ी गिरावट 

तारीख सेंसेक्स में गिरावट
23 मार्च 2020 3,934
18 मार्च 2020 1709
16 मार्च 2020 2713
12 मार्च 2020 2919
9 मार्च 2020 1941
24 अगस्त 2015 1624
28 फरवरी 2020 1448
21 जनवरी 2008 1408
22 अक्टूबर 2008 1070

2:11 बजे: सेंसेक्स  3696 अंक टूटकर 26,219.90 के स्तर पर आ गया है। वहीं निफ्टी 12.12% यानी 1,060.25 अंक लुढ़क कर 7,685.20 के स्तर पर आ गया है। 

बाजार में गिरावट की 3 वजह

कोरोनावायरस का संक्रमण फैलने की वजह से देश के कई राज्यों में 31 मार्च तक लॉकडाउन और विदेशी निवेशक भारतीय बाजार से करीब दो हफ्ते में वे 50,000 करोड़ रुपए के शेयर बेच चुके हैं। वहीं कोरोनावायरस का संक्रमण फैलने के डर से दुनियाभर के बाजारों में गिरावट आ रही है।

तारीख सेंसेक्स में गिरावट
23 मार्च 3650*
18 मार्च 1709
16 मार्च 2713
12 मार्च 2919
9 मार्च 1941
6 मार्च 894
28 फरवरी 1448
1 फरवरी 988
20 जनवरी 735
6 जनवरी 764

* बाजार में अभी कारोबार जारी है

यह भी पढ़ें: शेयर बाजार पर कोरोना का 'अटैक', एक घंटे में निवेशकों के 10 लाख करोड़ रुपये स्वाहा 

11:23 बजे: सेंसेक्स 3371.52 अंक यानी 11.27% का गोता लगा चुका है। यह  26,544.44 के स्तर तक आ चुका है। वहीं निफ्टी 962 अंक तक टूट चुका है।

10:21 बजे: 45 मिनट कारोबार बंद रहने के बाद एक बार फिर कारोबार शुरू हो गया है। सेंसेक्स 2498.72 यानी 8.35% टूटकर 27,417.24  के स्तर पर है वहीं निफ्टी 842.45 यानी 9.63 फीसद लुढ़क कर 7,903.00  के स्तर पर है।

यह भी पढ़ें: LIC ने दी बड़ी राहत, 15 अप्रैल तक भर सकेंगे पॉलिसी का प्रीमियम

10:10 बजे: सेंसेक्स में 10 फीसद की महागिरावट के बाद कारोबार 45 मिनट के लिए रोक दिया गया है। 13 मार्च को भी बाजार खुलने के चंद मिनटों में ही सेंसेक्स 3090.62 अंक टूट गया था। निफ्टी 966.10 अंक यानी 10.07% टूटकर 8,624.05  के स्तर पर आ गया। इसके बाद लोअर सर्किट लग गया और कारोबार 45 मिनट के लिए बंद कर दिया गया था।

nifty top looser

क्या होता है लोअर सर्किट

शेयर बाजार में दो सर्किट ब्रेकर होते हैं- लोअर और अपर जब शेयर बाजार एक निर्धारित सीमा से ज्यादा गिरने लगे, तो लोअर सर्किट लगाया जाता है। इसके लिए भी सेबी की ओर से 10 फीसदी, 15 फीसदी और 20 फीसदी की सीमा निर्धारित की गई है। वहीं अपर सर्किट शेयर बाजार में तब लगाया जाता है, जब यह एक तय सीमा से ज्यादा बढ़ जाता है। सेबी की ओर से अपर सर्किट के लिए तीन स्थितियां- 10 फीसदी, 15 फीसदी और 20 फीसदी की निर्धारित की गई हैं। 

 

रुपया में रिकॉर्ड गिरावट

सोमवार यानी 23 मार्च 2020 को डॉलर के मुकाबले रुपया भारी कमजोरी के साथ खुला। शुरुआती कारोबार में रुपया 95 पैसे टूट चुका है और अब डॉलर 76.15 रुपये का हो गया है। वहीं, शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 10 पैसे की कमजोरी के साथ 75.18 रुपये के स्तर पर बंद हुआ था।

इस साल की 10वीं बड़ी गिरावट 

शेयर बाजार इस साल की 10वीं बड़ी गिरावट की ओर देख लिया। सेंसेक्स ने 2800 अंक टूट कर इस साल की सबसे बड़ी गिरावट जो 12 मार्च को 2919 अंकों की हुई थी उसके करीब है।  

 

9:30 बजे: सेंसक्स करीब 2400 अंक गिरकर 27519 पर है तो वहीं करीब 694 अंक का गोता लगाया। निफ्टी 50 और सेंसेक्स का कोई स्टॉक हरे निशान पर नहीं है। निफ्टी में बजाज फाइनेंस 14.20%, एक्सिस बैंक 11.83%, महिंद्रा एंड महिंद्रा 10 फीसद और आईसीअईसीआई बैंक 9.99 फीसद टूटकर टॉप लूजर की लिस्ट में हैं।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) ने भी एक बयान में कहा कि बाजार में सोमवार को सभी खंडों में सामान्य रूप से कारोबार होगा। इस विषय में जब सेबी से संपर्क किया गया तो उसके प्रवक्ता ने भी कहा कि सोमवार को शेयर बाजार के सभी खंडों में कामकाज सामान्य रूप से जारी रखा जाएगा।  कोरोना वायरस के कारण देश की आर्थिक राजधानी माने जाने वाले मुंबई शहर में सरकार ने लोगों की आवाजाही पर कई तरह की पाबंदियां लगा रखी हैं। इस बीच शेयर बाजारों ने ब्रोकरों को घर से काम करने की मंजूरी दे दी है। यह पहला मौका है जब ब्रोकरों को घर से काम करने की मंजूरी मिली है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Stock market collapsed as soon as it opened Sensex drops 2307 points