DA Image
Thursday, December 9, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसखाद्य तेल की कीमतों में कमी के लिए अभी और इंतजार

खाद्य तेल की कीमतों में कमी के लिए अभी और इंतजार

 सुधांशु पांडे,नई दिल्ली Tarun Singh
Sat, 23 Oct 2021 08:54 AM
खाद्य तेल की कीमतों में कमी के लिए अभी और इंतजार

त्यौहार के मौसम में महंगाई खासतौर पर खाद्य तेल की कीमतों में कमी की उम्मीद कर रहे हैं, तो आपकों मायूसी होगी। क्योंकि, खाद्य तेल की कीमतों में अगले साल फरवरी तक कमी आने की उम्मीद है। वहीं, सरकार का कहना है कि प्याज की कीमत नियंत्रण में है। केंद्र राज्यों को 21 रुपए किलों की दर पर प्याज उपलब्ध करा रहा है।

खाद्य मंत्रालय में सचिव सुधांशु पांडे ने कहा कि सरसों के तेल का उत्पादन करीब दस लाख मीट्रिक टन बढा है। इससे आपूर्ति बढेगी और फरवरी तक सरसों के तेल की कीमतों में कमी देख सकेंगे। उन्होंने कहा कि अन्य तेलों के दाम अंतरराष्ट्रीय बाजार में बढने की वजह से खाद्य तेलों के दाम बढे हैं। सरकार कदम उठा रही है।

यह भी पढ़ेंः फोनपे यूजर्स को झटका, मोबाइल रिचार्ज के लिए UPI से भुगतान पड़ेगा महंगा

सुधांशु पांडे ने कहा कि त्यौहार के दौराम दामों में इजाफा नहीं हो, इसके लिए मंत्रालय लगातार राज्यों से मुनाफाखोरी और कालाबाजारी के खिलाफ सख्त कदम उठाने का आग्रह कर रहा है। उन्होंने कहा कि खाद्य तेल की कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए केंद्र सरकार ने भी कई कदम उठाए हैं। इनमें पाम ऑयल पर इंपोर्ट ड्यूटी को घटाकर शून्य किया गया है। यह मार्च 2022 तक लागू रहेगा।

प्याज की कीमतों में वृद्धि के रुझान पर खाद्य सचिव सुधांशु पांडे ने कहा कि प्याज के दाम नियंत्रण में हैं। प्याज की कीमतों में ज्यादा उछाल नहीं आया है। कीमतों पर नियंत्रण के लिए केंद्र सरकार बफर स्टॉक से राज्यों को 26 रुपए किलों की दर पर प्याज मुहैया करा रही है। प्याज के निर्यात पर पाबंदी के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि अभी पाबंदी लगाने की फिल्हाल कोई संभावना नहीं है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें