DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बदलाव! स्टार्टअप एक घंटे में फाइल कर सकेंगे रिटर्न

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय स्टार्टअप के लिए जीएसटी दाखिल करने, कर रिटर्न भरने समेत विभिन्न नियमों के अनुपालन में लगने वाले समय को कम करने की तैयारी में है। 

मंत्रालय ने स्टार्टअप के हर महीने अनुपालन में लगने वाले समय को घटाकर मात्र एक घंटा करने का प्रस्ताव किया है। मंत्रालय का मनना है कि इस पहल से नए उद्यमियों को अपने कारोबार पर फोकस बढ़ाने में मदद मिलेगी। यह प्रस्ताव उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्द्धन विभाग की ओर से तैयार किए गए ‘स्टार्ट-अप इंडिया विजन -2024' नीति दस्तावेज का हिस्सा है। नवोदित उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए यह नीति बनाई गई है। इसमें स्टार्टअप कंपनियों को कारोबार-अनुपालन माहौल देने के लिए कुल 11 उपायों का सुझाव दिया गया है। 

विभाग के दस्तावेज का लक्ष्य 2024 तक देश में 50,000 नई स्टार्टअप कंपनियां स्थापित करने की सुविधा देना और 20 लाख प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रोजगार के अवसर सृजित करना है। तमिलनाडु की स्टार्टअप कंपनी माइक्रोजी एलएलपी की संस्थापक रचना दवे ने कहा, अनुपालन में लगने वाले समय को घटाकर एक घंटे करने का प्रस्ताव स्वागत योग्य कदम है। यह स्टार्टअप कंपनियों को मुख्य गतिविधियों पर ध्यान देने के लिए अधिक समय देगा। इसके अलावा देश में स्टार्टअप कंपनियों के लिए सहयोग तंत्र को और मजबूत करेगा। 
SBI ने ब्याज दरों में किया बदलाव, जानें आप पर पड़ेगा कितना असर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Startup can file return in an hour time