Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़Sridhar Ramaswamy Another Indian to command a foreign tech company has also worked in Google - Business News India

Sridhar Ramaswamy: एक और भारतीय को विदेशी टेक कंपनी की कमान, गूगल में भी कर चुके काम

अमेरिका की चर्चित डेटा क्लाउड कंपनी स्नोफ्लेक (Snowflake) की कमान अब भारतीय मूल के श्रीधर रामास्वामी के हाथों में होगी। कंपनी ने श्रीधर रामास्वामी को बतौर सीईओ नियुक्त किया है।

Varsha Pathak लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीThu, 29 Feb 2024 12:39 PM
हमें फॉलो करें

Sridhar Ramaswamy: अमेरिका की चर्चित डेटा क्लाउड कंपनी स्नोफ्लेक (Snowflake) की कमान अब भारतीय मूल के श्रीधर रामास्वामी के हाथों में होगी। कंपनी ने श्रीधर रामास्वामी को बतौर सीईओ नियुक्त किया है। इसी के साथ रामास्वामी टेक इंडस्ट्री के उन ग्लोबल लीडर्स की सूची में शामिल हो गए हैं, जो भारतीय मूल के हैं। ग्लोबल लीडर्स की सूची में Google के सुंदर पिचाई, माइक्रोसॉफ्ट के सत्या नडेला, आईबीएम के अरविंद कृष्णा और एडोब के शांतनु नारायण जैसे बड़े नाम हैं।

किसकी जगह लेंगे रामास्वामी
स्नोफ्लेक में रामास्वामी अपने सीनियर फ्रैंक स्लूटमैन का स्थान लेंगे। फ्रैंक स्लूटमैन ने चार साल से अधिक समय तक कंपनी में बतौर सीईओ काम किया। हालांकि, फ्रैंक चेयरमैन के पद पर बने रहेंगे।

यह भी पढ़ें- 7 मार्च से खुल रहा एक और IPO, प्राइस बैंड ₹83, ग्रे मार्केट में अभी से तूफानी तेजी

आईआईटी से पढ़ाई
रामास्वामी ने 1989 में आईआईटी, मद्रास से कंप्यूटर विज्ञान में बीटेक की पढ़ाई पूरी की थी। इसके बाद ब्राउन यूनिवर्सिटी से पीएचडी की डिग्री ली। डेटा क्लाउड कंपनी स्नोफ्लेक के साथ रामास्वामी का कार्यकाल मई 2023 में शुरू हुआ। दरअसल, स्नोफ्लेक ने लीडिंग प्राइवेट आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ऑपरेटेड सर्च इंजन Neeva का अधिग्रहण किया। साल 2019 में रामास्वामी ने अपने साथी विवेक रघुनाथन के साथ मिलकर  Neeva की स्थापना की थी। इसके जरिए रामास्वामी का लक्ष्य विज्ञापन पर यूजर्स एक्सपीरियंस को प्राथमिकता देते हुए गूगल का एक विकल्प बनाना था। इस सर्च इंजन ने बाद में स्नोफ्लेक की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस स्ट्रैटजी को संवारने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। 

गूगल के लिए भी कर चुके काम
रामास्वामी ने गूगल में भी कई प्रमुख पदों पर कार्य किया। यहां उन्होंने विज्ञापन व्यवसाय को $1.5 बिलियन से $100 बिलियन तक बढ़ाने में अहम भूमिका निभाई।  रामास्वामी ने करियर में बेल लैब्स, ल्यूसेंट टेक्नोलॉजीज और बेल कम्युनिकेशंस रिसर्च (बेलकोर) में बतौर रिसर्चर भी काम किया है। इसके अलावा, उन्होंने ग्रेलॉक पार्टनर्स में वेंचर पार्टनर के रूप में कार्य किया। रामास्वामी वर्तमान में ब्राउन यूनिवर्सिटी में ट्रस्टी बोर्ड में शामिल हैं।
 

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें