DA Image
20 अक्तूबर, 2020|5:53|IST

अगली स्टोरी

मोदी सरकार से खरीदें सस्ता सोना, 2 से 6 मार्च के बीच कर सकते हैं निवेश

sovereign gold bond 2019 20 can invest between 2 to 6 march

कोरोना वायरस का असर शेयर बाजार पर पड़ते देख केंद्र की मोदी सरकार ने एक बार फिर आम जनता को सोना बेचेगी। ऐसे में आम नागरिकों को एक बार फिर सोने में निवेश का मौका दे रही है। दरअसल कोरोना वायरस की वजह से शेयर बाजार में निवेशक सुरक्षित जरिया खोज कर रहे हैं। ऐसे में सोना में  निवेश उनके लिए एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है।

बता दें कि मोदी सरकार यह सोना सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड 2019-20 के तहत बेचेगी। सरकार की ओर से गोल्ड बॉन्ड में निवेश के लिए यह 10वीं सीरीज है, जिसकी शुरुआत सोमवार से होगी। सोमवार से निवेशक गोल्ड बॉन्ड के जरिए सोना में निवेश कर सकते हैं। आरबीआई के मुताबिक निवेशक सॉवरेन बॉन्ड में 2 से 6 मार्च के बीच निवेश कर सकते हैं। 

आरबीआई ने इस बार गोल्ड बॉन्ड का इश्यू प्राइस 4260 रुपए प्रति ग्राम निर्धारित किया है। निवेशकों को 11 मार्च 2020 तक बॉन्ड मिल जाएगा। गोल्ड बॉन्ड में निवेश करने वालों को सरकार और भी कई रियातें दे रही है। अगर आप गोल्ड बॉन्ड के लिए ऑनलाइन तरीके से आवेदन और भुगतान करेंगे तो निवेशकों को प्रति ग्राम 50 रुपए की छूट मिलेगी। 

ये है नियम 
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीस के निवेश करने वाला व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 500 ग्राम सोने के बॉन्ड खरीद सकता है। वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है। इस स्कीम में निवेश करने पर आप टैक्स बचा सकते हैं।

बॉन्ड लाने के पीछे कारण 
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम का मकसद सोने की फिजिकल डिमांड को कम करना है। इसके तहत सोना खरीदकर घर में नहीं रखा जाता है बल्कि बॉन्ड में निवेश के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sovereign Gold Bond 2019 20 can invest between 2 to 6 March