ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेससरकार ने इस स्मॉल सेविंग स्कीम के नियम में किया बड़ा बदलाव, आपने भी लगाया है पैसा?

सरकार ने इस स्मॉल सेविंग स्कीम के नियम में किया बड़ा बदलाव, आपने भी लगाया है पैसा?

स्मॉल सेविंग स्कीम Kisan Vikas Patra में कम से कम 1000 रुपये का निवेश किया जा सकता है। वहीं, इस स्कीम में अधिकतम निवेश की लिमिट तय नहीं है। आप सिंगल के अलावा ज्वाइंट अकाउंट भी खुलवा सकते हैं।

सरकार ने इस स्मॉल सेविंग स्कीम के नियम में किया बड़ा बदलाव, आपने भी लगाया है पैसा?
Deepak Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 29 Sep 2022 08:44 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

करीब 27 माह के इंतजार के बाद केंद्र सरकार ने कुछ स्मॉल सेविंग स्कीम्स की ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है। वहीं, एक स्मॉल सेविंग स्कीम की ब्याज दरों में बढ़ोतरी के साथ ही मैच्योरिटी के नियम में भी बदलाव कर दिया गया है। इस स्कीम का नाम किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra) है।

क्या हुआ है बदलाव: केंद्र सरकार ने Kisan Vikas Patra स्कीम की अवधि और ब्याज दर दोनों में संशोधन किया है। इसके तहत किसान विकास पत्र पर ब्याज अब 7.0 प्रतिशत होगा जो पहले 6.9 प्रतिशत था। वहीं, मैच्योरिटी अवधि में भी बदलाव हुआ है। पहले Kisan Vikas Patra स्कीम की मैच्योरिटी अवधि 124 महीने की थी, जो अब 123 माह कर दिया गया है। मतलब ये हुआ कि Kisan Vikas Patra स्कीम में दांव लगाने वाले निवेशक अब एक माह पहले ही अपनी जमा रकम को ब्याज के साथ मैच्योर करा सकेंगे। 

स्कीम की डिटेल: Kisan Vikas Patra योजना में कम से कम 1000 रुपये का निवेश किया जा सकता है। वहीं, अधिकतम निवेश की लिमिट तय नहीं है। आप सिंगल के अलावा ज्वाइंट अकाउंट भी खुलवा सकते हैं। अकाउंट में जमा रकम पर सरकार ब्याज देती है। यह ब्याज तिमाही आधार पर मिलती है।  देश के 1.5 लाख से ज्यादा पोस्ट ऑफिस में इस अकाउंट को खुलवा सकते हैं। इसके अलावा कुछ बैंक भी Kisan Vikas Patra योजना के तहत अकाउंट खोलते हैं।

ये पढ़ें- नवरात्रि में छोटी बचत योजनाओं पर सरकार का तोहफा, अक्टूबर से यहां मिलेगा ज्यादा मुनाफा

किन योजनाओं की ब्याज दर बदली:  पोस्ट ऑफिस में तीन साल की जमा पर अब 5.8 प्रतिशत ब्याज मिलेगा। अभी तक यह दर 5.5 प्रतिशत थी। अक्टूबर-दिसंबर की तिमाही के लिए वरिष्ठ नागरिक बचत योजना पर अब 7.6 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा, जो अब तक 7.4 प्रतिशत ब्याज था।

epaper