DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऑटो सेक्टर में स्लोडाउन का असर, बड़ी कंपनियों ने घटाया प्रोडक्शन 

देश में यात्री वाहनों का उत्पादन चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-जुलाई के दौरान सालाना आधार पर 13.18 प्रतिशत कम रहा। मारुति सुजुकी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा मोटर्स, फोर्ड टोयोटो तथा होंडा जैसी कंपनियों ने उत्पादन में बड़ी कटौती की है।

सोसाइटी आफ इंडियन आटोमोबाइल मैनुफैक्चरर्स (सियाम) के आंकड़ों के अनुसार इस दौरान केवल दो कंपनियों हुंदै मोटर और फाक्सवैगन इंडिया के उत्पादन में मामूली वृद्धि हुई। अप्रैल-जुलाई में कुल 12,13,281 यात्री वाहनों का उत्पादन हुआ जो पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 13,97,404 इकाइयां थी। प्रमुख वाहन कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया का उत्पादन आलोच्य अवधि में 18.06 प्रतिशत घटकर 5,32,979 इकाइयां रही। महिंद्रा एंड महिंद्रा का उत्पादन भी चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जुलाई के दौरान 10.65% घटकर 80,679 इकाइयां रही। फोर्ड इंडिया का उत्पादन 25.11% घटकर 71,348 इकाइयां रही। टाटा मोटर्स का उत्पादन 20.37% घटकर 59,667 इकाइयां रही।  

बाइक उत्पादन 10 फीसदी कम 
दोपहिया वाहनों का उत्पादन भी चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जुलाई अवधि में करीब दस प्रतिशत घटकर 78,45,675 इकाइयां रही जो इससे पूर्व वित्त वर्ष की इसी अवधि में 87,13,476 इकाइयां रही। वाहन उद्योग में नरमी को देखते हुए कंपनियों ने उत्पादन घटाया है।
 
कंपनी                   उत्पादन कमी 
मारुति                      18 
फोर्ड इंडिया                25.11 
महिंद्रा एंड महिंद्रा       10.65 
टाटा मोटर्स                20.37 
होंडा कार्स                  18.86 
टोयोयो                      20.98 
(अप्रैल-जुलाई कमी प्रतिशत में)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Slowdown affecting auto sector companies cut its production