Share Markets may remain volatile amid Q4 earnings Lok Sabha Elections - तिमाही नतीजे, आम चुनाव की वजह से शेयर बाजार में रहेगा उतार-चढ़ाव DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तिमाही नतीजे, आम चुनाव की वजह से शेयर बाजार में रहेगा उतार-चढ़ाव

घरेलू शेयर बाजार को इस सप्ताह विदेशी बाजार से मिले संकेतों से दिशा मिलेगी। चुनावी माहौल में निवेशक सर्तकता बरत रहे हैं। ऐसे में बाजार की चाल सबसे ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम और डॉलर के मुकाबले रुपये के रुखों से नियंत्रित हो रही है। इसके अलावा, प्रमुख कंपनियों की पिछली तिमाही के नतीजे और घरेलू व विदेशी आर्थिक आंकड़ों पर भी बाजार की नजर होगी।

देश की प्रमुख दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल के बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही के नतीजे सोमवार को जारी हो सकते हैं और इसी दिन निजी क्षेत्र के अग्रणी बैंक आईसीआईसीआई बैंक के भी नतीजे जारी होने जा रहे हैं। इसके अगले दिन मंगलवार को वेदांता की चौथी तिमाही के नतीजे जारी हो सकते हैं।

एशियन पेंट्स और एचसीएल टेक्नोलोजीज बीते वित्त वर्ष की आखिरी तिमाही के अपने नतीजे गुरुवार को जारी कर सकती हैं, जबकि सप्ताह के आखिर में शुक्रवार को भारतीय स्टेट बैंक और लार्सन एंड टुब्रो के चौथी तिमाही के नतीजे आने वाले हैं। इन प्रमुख कंपनियों के कारोबारी प्रदर्शन के नतीजों से बाजार को दिशा मिलेगी।

सेवा क्षेत्र की गतिविधियों का आकलन करने वाला सूचकांक निक्केई इंडिया सेवा क्षेत्र पीएमआई (परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स) के अप्रैल महीने का आंकड़ा कारोबारी सप्ताह के पहले दिन सोमवार को जारी हो सकता है। वहीं, सप्ताह के आखिर में शुक्रवार को मार्च महीने के औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े जारी होने वाले हैं। इन दोनों प्रमुख आंकड़ों पर बाजार की इस सप्ताह नजर बनी रहेगी। 

उधर, अमेरिका में पिछले सप्ताह के आखिर में जारी हुए गैर कृषि क्षेत्र की नौकरियों के आंकड़े के बाद विदेशी बाजार की प्रतिक्रियाओं का असर भी भारतीय बाजार पर इस सप्ताह के शुरुआती सत्र में देखने को मिलेगा। अमेरिका में अप्रैल में नौकरियों में वृद्धि हुई जबकि बेरोजगारी दर घटकर 3.6 फीसदी पर आ गई जोकि 49 साल का निचला स्तर है। इस आंकड़े के बाद पिछले सप्ताह अमेरिकी बाजार तेजी के साथ बंद हुआ था। हालांकि भारतीय शेयर बाजार की चाल इस बात पर निर्भर करेगी कि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों और घरेलू संस्थागत निवेशकों का निवेश के प्रति कैसा रुझान रहता है।

देश में इस समय लोकसभा चुनाव की गहमागहमी लगातार बढ़ती जा रही है। चार चरण के मतदान पूरे हो गए हैं और पांचवें चरण में इस सप्ताह छह मई को सात राज्यों के 51 लोकसभा क्षेत्रों में मतदान होगा। सात चरणों में हो रहे लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण का मतदान 19 मई को होगा और मतगणना 23 मई को होगी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Share Markets may remain volatile amid Q4 earnings Lok Sabha Elections