DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिजनेस › दिनभर उतार-चढ़ाव के दौर से गुजरा शेयर बाजार, सेंसेक्स 410 अंक टूटकर बंद, निफ्टी को भी बड़ा नुकसान
बिजनेस

दिनभर उतार-चढ़ाव के दौर से गुजरा शेयर बाजार, सेंसेक्स 410 अंक टूटकर बंद, निफ्टी को भी बड़ा नुकसान

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीPublished By: Drigraj Madheshia
Tue, 28 Sep 2021 04:15 PM
दिनभर उतार-चढ़ाव के दौर से गुजरा शेयर बाजार, सेंसेक्स 410 अंक टूटकर बंद, निफ्टी को भी बड़ा नुकसान

कमजोर वैश्विक संकेतों के बीच सप्ताह के दूसरे कारोबारी दिन यानी मंगलवार को भारतीय शेयर बाजार और रुपये में बड़ी गिरावट आई। कारोबार के दौरान 1,000 अंक की गिरावट के बाद सेंसेक्स में थोड़ी रिकवरी आई। हालांकि, इसके बावजूद सेंसेक्स 410 अंक लुढ़ककर बंद हुआ। 

निफ्टी की बात करें तो 0.6 फीसदी गिरकर 17,748 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान ये 17,576 अंक के निचले स्तर पर चल गया था। इस बीच, अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया कमजोर होकर एक महीने के निचले स्तर 74.07 पर आ गया। 

एयरटेल में सबसे अधिक गिरावट: बीएसई इंडेक्स पर जिन शेयरों में गिरावट रही, उनमें एयरटेल सबसे आगे है। एयरटेल में 3.68  फीसदी की गिरावट रही। वहीं, टेक महिंद्रा में 3.41 फीसदी, बजाज फाइनेंस 3.22 फीसदी लुढ़क कर बंद हुआ। बजाज फिनसर्व, एचसीएल, इन्फोसिस, टीसीएस के शेयर में 2 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई। बढ़त वाले शेयरों में पावरग्रिड, एनटीपीसी, सनफार्मा, टाइटन, कोटक बैंक आदि शामिल हैं। 

चीन का फैक्टर: चीनी डेवलपर एवरग्रांड के दिवालिया होने की आशंका के बीच अब बिजली संकट ने निवेशकों की टेंशन बढ़ा दी है। ये आशंका है कि चीन में ऊर्जा की कमी अर्थव्यवस्था के विकास को प्रभावित कर सकती है। कच्चे तेल की कीमतें भी बढ़ी हैं, इसका भी असर दिख रहा है।

सोमवार का हाल: सेंसेक्स-निफ्टी नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद

सोमवार को सेंसेक्स और निफ्टी मामूली बढ़त के साथ अपने नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गए। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान 60,412.32 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर तक गया। अंत में यह 29.41 अंक या 0.05 प्रतिशत के लाभ से अपने नए रिकॉर्ड स्तर 60,077.88 अंक पर बंद हुआ। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 1.90 अंक या 0.01 प्रतिशत के लाभ से अपने नए सर्वकालिक उच्चस्तर 17,855.10 अंक पर बंद हुआ। 

रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति प्रमुख विनोद मोदी ने कहा, वैश्विक बाजारों के सकारात्मक रुख के बीच घरेलू बाजारों में सीमित दायरे में कारोबार हुआ। आईटी तथा फार्मा कंपनियों में मुनाफावसूली से वाहन कंपनियों में शेयरों में तेज बढ़त का लाभ सिमट गया। उन्होंने कहा कि अक्तूबर से मांग में सुधार की उम्मीद से वाहन कंपनियों के शेयरों में जोरदार लाभ रहा। 

संबंधित खबरें