DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेंसेक्स और निफ्टी में मामूली गिरावट के साथ बाजार बंद, IT कंपनियों के शेयर टूटे

शेयर बाजारों में शुरुआती बढ़त के बावजूद कारोबार के अंतिम सत्र में प्रमुख सूचना प्रौद्योगिकी कंपनियों के शेयरों में अचानक बिकवाली से बीएसई सेंसेक्स तथा एनएसई निफ्टी में शुक्रवार को मामूली गिरावट दर्ज की गयी। लगभग पूरे कारोबार के दौरान बीएसई सेंसेक्स बढ़त में रहा, लेकिन अंत में यह 18.17 अंक यानी 0.05 प्रतिशत की मामूली गिरावट के साथ 38,963.26 अंक पर बंद हुआ। इसी तरह, एनएसई निफ्टी 12.50 अंक यानी 0.11 प्रतिशत की मामूली गिरावट के साथ 11,712.25 अंक पर बंद हुआ।

अवकाश के कारण कम कारोबारी दिवस वाले सप्ताह में सेंसेक्स 104.07 अंक यानी 0.26 प्रतिशत जबकि एनएसई निफ्टी 42.40 अंक यानी 0.36 प्रतिशत नीचे रहा। प्रौद्योगिकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी काग्निजेंट के पूरे साल के लिये आय वृद्धि के परिदृश्य को कम करने से आईटी कंपनियों के शेयर दबाव में आ गये। डालर के मुकाबले रुपये में मजबूती का भी बाजार पर असर पड़ा।

अमेरिकी कंपनी कोग्निजेंट ने पूरे वर्ष 2019 के लिये आय वृद्धि अनुमान को पहले के 7-9 प्रतिशत से कम करके 3.6- 5.1 प्रतिशत कर दिया है।
सेंसेक्स के शेयरों में टीसीएस, एचयूएल, टाटा स्टील, एचसीएल टेक, इन्फोसिस, बजाज फाइनेंस, एचडीएफसी, इंडसइंड बैंक, एशियन पेंट्स, आईटीसी तथा वेदांता में 3.70 प्रतिशत तक की गिरावट दर्ज की गयी। परिणाम आने से पहले एचयूएल का शेयर भी नीचे आया। हिंदुस्तान यूनिलीवर का शुद्ध मुनाफा चौथी तिमाही में 13.80 प्रतिशत बढ़कर 1,538 करोड़ रुपये रहा।

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ''रुपये में मजबूती तथा तेल कीमतों में गिरावट से बाजार बढ़त के साथ खुला। हालांकि, शेयरों के भाव ऊंचे रहने से बिकवाली के कारण लाभ पर कुछ विराम लगा।" उन्होंने कहा, ''...आने वाले समय में कमजोर वैश्विक रुख के कारण बाजार सीमित दायरे में रह सकता है। वहीं कुछ कंपनियों के बेहतर तिमाही परिणाम खरीद के अवसर उपलब्ध करा सकते हैं।"

इस बीच, शेयर बाजारों के पास उपलब्ध अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बृहस्पतिवार को 597.54 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) ने 791.69 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे। एशिया के अन्य बाजारों में चीन तथा जापान के बड़े बाजार अवकाश के कारण बंद रहे। दक्षिण कोरिया के कोस्पी तथा हांगकांग के हैंगसेंग में मिला-जुला रुख रहा। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में तेजी देखने को मिली।

इस बीच, कारोबार के दौरान डालर के मुकाबले रुपया मजबूत होकर 69.34 पर पहुंच गया। वहीं मानक कच्चा तेल ब्रेंट क्रूड का भाव 0.62 प्रतिशत की गिरावट के साथ 70.31 डालर प्रति बैरल रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Share Market Close With marginally lower IT stocks drag