DA Image
7 मई, 2021|11:40|IST

अगली स्टोरी

सेंसेक्स की टाॅप10 में से 8 कंपनियों का मार्केट कैपिटल बढ़ा, रिलायंस को लगा तगड़ा झटका 

next week of share market depend on us central bank federal reserve meeting

सेंसेक्स की शीर्ष 10 कंपनियों में से टाॅप के मार्केट कैपिटल में बीते सप्ताह सामूहिक रूप से 72,442.88 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई। सबसे अधिक लाभ में इन्फोसिस रही। सप्ताह के दौरान सिर्फ रिलायंस इंडस्ट्रीज और भारतीय स्टेट बैंक के बाजार पूंजीकरण में गिरावट आई। 

समीक्षाधीन सप्ताह में इन्फोसिस का बाजार पूंजीकरण 24,962.94 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 5,85,564.20 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) के बाजार मूल्यांकन में 18,458.26 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई और यह 11,30,763.01 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। एचडीएफसी बैंक की बाजार हैसियत 12,123.8 करोड़ रुपये के उछाल से 8,55,086.25 करोड़ रुपये पर और बजाज फाइनेंस की 6,643.53 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 3,34,716.18 करोड़ रुपये पर पहुंच गई। 

12000 रुपये तक सस्ता हो चुके सोने का और कितना गिरेगा भाव, जानें यहां

एचडीएफसी का बाजार पूंजीकरण 4,435.47 करोड़ रुपये बढ़कर 4,62,992.20 करोड़ रुपये पर और कोटक महिंद्रा बैंक का 2,648.24 करोड़ रुपये की वृद्धि के साथ 3,83,741.06 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। आईसीआईसीआई बैंक ने सप्ताह के दौरान 2,230.82 करोड़ रुपये जोड़े और उसका बाजार पूंजीकरण 4,23,733.91 करोड़ रुपये रहा। हिंदुस्तान यूनिलीवर की बाजार हैसियत 939.82 करोड़ रुपये बढ़कर 5,18,265.12 करोड़ रुपये पर पहुंच गई। 
     
इस रुख के उलट रिलायंस इंडस्ट्रीज के बाजार पूंजीकरण में 25,294.37 करोड़ रुपये की गिरावट आई और यह 13,55,784.49 करोड़ रुपये पर आ गया। एसबीआई का बाजार मूल्यांकन 2,320.4 करोड़ रुपये घटकर 3,40,206.19 करोड़ रुपये रह गया। टाॅप 10 कंपनियों की लिस्ट में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही। उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, एसबीआई और बजाज फाइनेंस का स्थान रहा। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 386.76 अंक या 0.78 प्रतिशत चढ़ा। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sensex tops 8 out of 10 companies market capitalization rises Reliance gets a big blow