अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निवेशकों की लिवाली से सेंसेक्स अब तक के सर्वोच्च शिखर पर

sensex happy

ऊर्जा , तेल एवं गैस तथा बैंक शेयरों में लिवाली से बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स गुरुवार को 282 अंक उछलकर रिकार्ड 36,548 अंक पर बंद हुआ। यह सेंसेक्स का अब तक सर्वोच्च बंद स्तर है। नेशनल स्टॉक एक्सेंज (एनएसई) का निफ्टी भी 75 अंक चढ़कर 11,023 अंक पर बंद हुआ। 

मालामाल हुई रिलायंस  
पेट्रोलियम, दूरसंचार समेत विभिन्न कारोबार में लगी रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 4.42 प्रतिशत मजबूत होकर अब तक के रिकार्ड स्तर पर पहुंच गया। इसके साथ ही कंपनी का बाजार पूंजीकरण 100 अरब डॉलर के दायरे में पहुंच गया है।

इनसे मिला बाजार को दम
 बाजार विशेषज्ञों ने कहा कि रुपये में मजबूती , घरेलू संस्थागत निवेशकों की लिवाल , ताजा विदेशी पूंजी प्रवाह तथा कंपनियों के वित्तीय परिणाम की बेहतर शुरूआत से बाजार धारणा को बल मिला। साथ ही विदेशी बाजार में कच्चे तेल में नरमी से भी बाजार की तेजी को बल मिला।

पांच दिन में 974 अंक चढ़ा सेंसेक्स
पिछले पांच सत्रों में सेंसेक्स में 974 अंकों की तेजी आई है। 30 शेयरों वाला सूचकांक मजबूती के साथ खुला और कारोबार के दौरान 36,699.53 के रिकॉर्ड स्तर तक चला गया। हालांकि, बाद में इसमें कुछ गिरावट आई और अंत में यह 0.78 प्रतिशत की बढ़त के साथ अब तक के सर्वोच्च स्तर 36,548 अंक पर बंद हुआ। इससे पहले 29 जनवरी को सेंसेक्स रिकॉर्ड 36,283अंक पर बंद हुआ था। एनएसई निफ्टी भी 0.68 प्रतिशत मजबूत होकर 11,023 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 11,078 अंक तक पहुंच गया था। निफ्टी का 31 जनवरी के बाद यह सर्वोच्च स्तर है। उस समय यह 11,028 अंक पर बंद हुआ था। 

निवेशकों में लिवाली की होड़
अस्थाई आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार को शुद्ध रूप से 636.27 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे। जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) ने इस दौरान 15.33 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे। 

छोटे शेयरों को झटका 
बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांक में गिरावट रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 81 अंकों की गिरावट के साथ 15,552 पर बंद हुआ। जबकि छोटे शेयरों वाला स्मॉलकैप सूचकांक नौ अंकों की गिरावट के साथ 16,420 अंक पर बंद हुआ।
 
 इन शेयरों में मिला मोटा रिटर्न
बीएसई के 20 सेक्टरों में से आठ सेक्टरों में तेजी रही। ऊर्जा में सबसे अधिक 3.07 फीसदी की तेजी दर्ज की गई। तेल और गैस 1.60 फीसदी, बैंकिंग 0.92 फीसदी, वित्त 0.91 फीसदी और पूंजीगत वस्तुएं 0.69 फीसदी तेजी के साथ सबसे अधिक मुना‌फा देने वाले सेक्टर में शामिल रहे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sensex reached highest level due to buying by investors