DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेरिका-चीन व्यापार वार्ता पटरी से उतरने से सेंसेक्स 363 अंक लुढ़का

अमेरिका और चीन के बीच व्यापार वार्ता टूटने की आशंका के बीच सोमवार को बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 362.92 अंक नीचे आ गया। व्यापार वार्ता पटरी से उतरने की खबरों से वैश्विक स्तर पर शेयर बाजारों में बिकवाली का सिलसिला चला, जिसका यहां भी असर दिखाई दिया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 114 अंक टूटकर 11,600 अंक से नीचे आ गया।

दुनिया की दो बड़ी आर्थिक ताकतों के बीच व्यापार वार्ता पटरी से उतरने के संकेत हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 200 अरब डॉलर के चीन के सामान पर शुल्क बढ़ाने की चेतावनी दी है। इन खबरों के बाद चीन का शंघाई कम्पोजिट इंडेक्स 5.58 प्रतिशत नीचे आ गया। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार भी नुकसान में चल रहे थे। 

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान 453 अंक तक नीचे आया। अंत में सेंसेक्स 362.92 अंक या 0.93 प्रतिशत के नुकसान से 38,600.34 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी भी 114 अंक या 0.97 प्रतिशत के नुकसान से 11,598.25 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की कंपनियों में यस बैंक, टाटा मोटर्स, बजाज फाइनेंस, टाटा स्टील, एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी, इंडसइंड बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एशियन पेंट्स, हीरो मोटोकॉर्प, एक्सिस बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा, हिंदुस्तान यूनिलीवर, बजाज आटो, एनटीपीसी, एचसीएल टेक, कोटक बैंक और इन्फोसिस 5.30 प्रतिशत तक टूट गए।

हालांकि, इस रुख के उलट आईटीसी, टीसीएस, भारती एयरटेल और ओएनजीसी लाभ में रहे। कारोबारियों ने कहा कि ट्रंप के हैरान करने वाले रुख से वैश्विक निवेशकों में बेचैनी बढ़ी है। ट्रंप ने रविवार को ट्वीट किया कि वह 200 अरब डॉलर के चीन के उत्पादों पर आयात शुल्क की दर को शुक्रवार से 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 25 प्रतिशत करेंगे। ट्रंप की इस घोषणा के बावजूद चीन के शीर्ष व्यापार दूत अमेरिका से बातचीत फिर शुरू करने के लिए बुधवार को वहां जाने की तैयारी कर रहे हैं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sensex plunged 363 points After US China Trade War