DA Image
19 अक्तूबर, 2020|3:54|IST

अगली स्टोरी

शेयर बाजार: सेंसेक्स और निफ्टी मामूली बढ़त के साथ बंद

sensex

गिरावट के साथ खुलने वाले शेयर बाजार की चाल आज दिनभर सुस्त रही। सप्ताह के अंतिम कारोबारी दिन शुक्रवार को बाजार मामूली बढ़त के साथ बंद हुआ। सेंसेक्स 15 अंकों की मामूली तेजी के साथ 38040 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी ने 13.90 अंकों की बढ़त के साथ 11,214.05  के स्तर पर आज के कारोबार को विराम दिया। निफ्टी गेनर की लिस्ट में आज एशियन पेंट्स टॉप पर है। इसके शेयर 4.65 फीसद की तेजी के साथ 1807 रुपये 80 पैसे पर बंद हुए। वहीं बजाज फाइनेंस, यूपीएल अैर इंडसइंड बैंक भी हरे निशान के साथ बंद हुए। गिरावट वाले स्टॉक में टाइटन, एचसीएलटेक, इन्फोसिस, सन फार्मा और महिंद्रा एंड महिंद्रा के रहे।

यह भी पढ़ें: सोना नए शिखर पर, चांदी 19 साल पुराने रिकार्ड को तोड़ने से चंद कदम दूर

       सेंसेक्स अपडेट

सुबह का हाल

शेयर बाजार गिरावट के साथ खुला। गुरुवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स  74.38 अंकों की गिरावट के साथ 37,946.80 के स्तर पर खुला। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी दिन के कारोबार की शुरुआत लाल निशान के साथ हुई। शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 125 अंक लुढ़क कर 37,900.22 के स्तर पर था तो वहीं निफ्टी 24.85 अंक गिरकर 11,175.30  के स्तर पर। 

यह भी पढ़ें: सोना 13 दिन में 6693 रुपये उछला, चांदी ने लगाई 21272 रुपये की छलांग, जानें क्यों बढ़ रहे दाम

निफ्टी टॉप गेनर में यूपीएल, बीपीसीएल, आईओसी, कोल इंडिया और ओएनजीसी जैसे स्टाक हैं तो वहीं टॉप लूजर में टाटा स्टील, एचसीएल, आईसीआईसीआई बैंक, हिन्डाल्को और इन्फोसिस जैसे स्टॉक प्रमुख हैं। वहीं सेंसेक्स में सबसे अधिक एक प्रतिशत की गिरावट एचसीएल टेक में हुई। इसके अलावा एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक, इंफोसिस, सन फार्मा, आईसीआईसीआई बैंक और कोटक बैंक में भी गिरावट हुई।  दूसरी ओर एशियन पेंट्स, अल्ट्राटेक सीमेंट, बजाज फिनसर्व, इंडसइंड बैंक और टीसीएस फायदे में थे। 

यह भी पढ़ें: आरबीआई की मौद्रिक नीति से जानें किसको होगा कितना फायदा

                 सेंसेक्स

गुरुवार का हाल: सेंसेक्स 362 अंक चढ़ा

भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा मौद्रिक नीति समीक्षा में नीतिगत दरों में बदलाव नहीं किए जाने तथा वृद्धि को प्रोत्साहन के लिए नरम रुख जारी रखने के संकेत के बीच गुरुवार को बीएसई सेंसेक्स 362 अंक चढ़ गया। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान एक समय 558 अंक तक चढ़ गया था। अंत में यह 362.12 अंक या 0.96 प्रतिशत की बढ़त के साथ 38,025.45 अंक पर बंद हुआ। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 98.50 अंक या 0.89 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,200 अंक के पार 11,200.15 अंक पर बंद हुआ। 

अडाणी पावर का घाटा बढ़कर 682 करोड़ पहुंचा

अडाणी पावर का शुद्ध घाटा चालू वित्त वर्ष 2020-21 की अप्रैल-जून तिमाही में बढ़कर 682.46 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। 'लॉकडाउन के कारण बिजली की मांग कम होने से आय प्रभावित हुई और कंपनी का घाटा बढ़ा है। इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 की इसी तिमाही में कंपनी को 263.39 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था। अडाणी पावर ने बंबई शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि उसकी आय 2020-21 की पहली तिमाही में घटकर 5,356.19 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 2019-20 की इसी तिमाही में 8,014.50 करोड़ रुपये थी। कंपनी को 2019-20 में एकीकृत रूप से 2,274.77 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था। जबकि आय 27,841.81 करोड़ रुपये थी। 

एचपीसीएल का मुनाफा दोगुना से अधिक बढ़ा

हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लि. (एचपीसीएल) का चालू वित्त वर्ष की जून में समाप्त पहली तिमाही का शुद्ध लाभ दोगुना से अधिक होकर 2,253 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 877 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था। शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कंपनी ने कहा कि तिमाही के दौरान उसकी बिक्री घटी है, लेकिन इसके बावजूद उसका मुनाफा बढ़ा है। तिमाही के दौरान कंपनी की बिक्री घटकर 45,945 करोड़ रुपये रह गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 74,596 करोड़ रुपये थी। तिमाही के दौरान एचपीसीएल को प्रत्येक बैरल कच्चे तेल को ईंधन में बदलने पर 0.04 डॉलर प्राप्त हुए। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी का सकल रिफाइनिंग मार्जिन 0.75 डॉलर प्रति बैरल था। एचपीसीएल ने कहा कि वैश्विक स्तर पर फैली कोरोना महामारी से ऊंची आर्थिक और मानवीय लागत बैठी है। इससे आर्थिक गतिविधियां धीमी हुई हैं। 

वोडाफोन-आइडिया को 25,460 करोड़ का घाटा

देश की तीसरी सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी वोडाफोन आइडिया का शुद्ध घाटा चालू वित्त वर्ष 2020-21 की अप्रैल-जून तिमाही में बढ़कर 25,460 करोड़ रुपये पहुंच गया। सांविधिक बकाया मद में अधिक प्रावधान से कंपनी का घाटा बढ़ा है। वोडाफोन आइडिया ने गुरुवार को शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि एक साल पहले इसी तिमाही में कंपनी को 4,874 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। कंपनी की परिचालन आय 2020-21 की पहली तिमाही में घटकर 10,659 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले इसी तिमाही में 11,270 करोड़ रुपये थी। कंपनी ने कहा कि उसने जून तिमाही में समायोजित सकल आय (एजीआर) देनदारी मद में 19,440 करोड़ रुपये अतिरिक्त पहचान की। 
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sensex Nifty open with decline in stock market