DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेरिका की ब्याज दर नीति का सेंसेक्स पर पड़ा प्रभाव

अमेरिकी फेडरल रिजर्व के ब्याज दर बढ़ाने के बाद निवेशकों के सतर्कता बरतने से तीन दिनों की लगातार तेजी के बाद आज घरेलू शेयर बाजार शुरुआती कारोबार में गिरावट में रहे। बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 126.09 अंक यानी 0.35 प्रतिशत गिरकर 35,613.07 अंक पर रहा। सूचना प्रौद्योगिकी , सार्वजनिक कंपनियां , तेल एवं गैस , प्रौद्योगिकी , बैंकिंग और रियल्टी समूह के शेयरों में गिरावट देखी गयी। पिछले तीन कारोबारी दिवस में सेंसेक्स 295.49 अंक मजबूत हुआ था। 
  नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी भी शुरुआती कारोबार में 35.95 अंक यानी 0.33 प्रतिशत गिरकर 10,820.75 अंक पर रहा। 
  ब्रोकरों ने बताया कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा कल ब्याज दर में 0.25 प्रतिशत तेजी करने के बाद निवेशक सतर्कता बरत रहे हैं। यह इस साल ब्याज दर में दूसरी बढ़ोतरी है। फेड रिजर्व ने इस साल दो और बार तथा अगले साल चार बार ब्याज दर बढ़ाने के संकेत दिये हैं।

 सेंसेक्स की कंपनियों में विप्रो , एक्सिस बैंक , टीसीएस , एनटीपीसी , भारतीय स्टेट बैंक , रिलायंस इंडस्ट्रीज , आईसीआईसीआई बैंक , अढाणी पोर्ट्स , कोल इंडिया , एशियन पेंट्स , कोटक बैंक , इंडसइंड बैंक , हीरो मोटोकॉर्प और एलएंडटी के शेयर शुरुआती कारोबार में 1.08 प्रतिशत तक गिरे।  एशियाई बाजारों में शुरुआती कारोबार में हांग कांग का हैंग सेंग 0.75 प्रतिशत , जापान का निक्की 0.47 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.28 प्रतिशत गिरावट में रहे। अमेरिका का डाउ जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज भी कल 0.47 प्रतिशत की गिरावट में बंद हुआ था। 
     

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sensex down 126 points in early trade