ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसमीडिया में चल रही खबरें सही है या नहीं? 250 लिस्टेड कंपनियों को देनी होगी सफाई, SEBI का प्रस्ताव

मीडिया में चल रही खबरें सही है या नहीं? 250 लिस्टेड कंपनियों को देनी होगी सफाई, SEBI का प्रस्ताव

वर्तमान में लिस्टेड कंपनियां अपनी पहल पर किसी मामले या सूचना को लेकर शेयर बाजार को जानकारी देकर उसकी पुष्टि या उससे इनकार कर सकती हैं। अब सेबी इसे अनिवार्य बनाने की तैयारी में है।

मीडिया में चल रही खबरें सही है या नहीं? 250 लिस्टेड कंपनियों को देनी होगी सफाई, SEBI का प्रस्ताव
Deepak Kumarएजेंसी,नई दिल्लीMon, 14 Nov 2022 05:47 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

शेयर बाजार को रेग्युलेट करने वाली संस्था सेबी ने अखबारों और डिजिटल मीडिया में प्रकाशित खबरों के संबंधित लिस्टेड कंपनियों पर पड़ने वाले प्रभाव को 'रोकने' के लिए कदम उठाया है। इसके तहत शीर्ष 250 लिस्टेड कंपनियों के लिये मुख्य मीडिया में प्रकाशित उन खबरों की पुष्टि करने या उसका खंडन करने को अनिवार्य बनाने का प्रस्ताव किया गया है, जिसका असर पड़ने की आशंका रहती है। 

इसके अलावा सेबी ने मामले के सामने आने के बाद शेयर बाजारों को इस बारे में जानकारी देने की समयसीमा 24 घंटे से कम कर 12 घंटे करने का सुझाव दिया है। 

इन प्रस्तावों का मकसद सूचीबद्धता बाध्यता और खुलासा जरूरत (एलओडीआर) नियमों को दुरुस्त करने के साथ बाजार की बदलती स्थिति के अनुसार उसमें तालमेल बनाये रखना है। नियामक ने प्रस्तावों पर संबंधित पक्षों से 27 नवंबर तक विचार मांगा है।

अभी क्या है नियम: वर्तमान में लिस्टेड कंपनियां अपनी पहल पर किसी मामले या सूचना को लेकर शेयर बाजार को जानकारी देकर उसकी पुष्टि या उससे इनकार कर सकती हैं। नियामक ने कहा, ''रिपोर्ट की गई उन घटनाओं या सूचनाओं का सत्यापन आवश्यक है, जिनका सूचीबद्ध इकाई पर गहरा प्रभाव हो सकता है। यह गलत बाजार धारणा या इकाई की प्रतिभूतियों पर पड़ने वाले प्रभाव को रोकने के लिये जरूरी है।''