Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़RK Swamy IPO Firm gets SEBI approval to go ahead with fundraising plans clint like lic and gov firm - Business News India

आ रहा एक और IPO, फ्रेश इश्यू ₹215 करोड़ का, LIC भी है क्लाइंट

आईपीओ में ​​215 करोड़ रुपये के फ्रेश शेयर हैं तो प्रवर्तकों और निवेशकों द्वारा 87 लाख इक्विटी शेयरों की बिक्री (ओएफएस) भी शामिल है। अब आईपीओ को सेबी से मंजूरी मिल गई है।

Deepak Kumar लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीWed, 10 Jan 2024 04:28 PM
हमें फॉलो करें

RK Swamy IPO news: अगर आईपीओ पर दांव लगाकर कमाई की सोच रहे हैं तो ये खबर आपके काम की हो सकती है। तमिलनाडु की मार्केट सर्विस प्रोवाइड कंपनी  आरके स्वामी को आईपीओ के जरिए पैसे जुटाने की मंजूरी मिल गई है। यह मंजूरी पूंजी बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) ने दी है। हाल ही में सेबी ने आरके स्वामी आईपीओ के लिए लेटर जारी कर दिया है। सेबी की भाषा में लेटर जारी करने का मतलब है कि कंपनी अपने आईपीओ को लॉन्च कर सकती है।

आईपीओ की डिटेल
इस आईपीओ में ​​215 करोड़ रुपये के फ्रेश शेयर हैं तो प्रवर्तकों और निवेशकों द्वारा 87 लाख इक्विटी शेयरों की बिक्री (ओएफएस) भी शामिल है। कंपनी के प्रमोटर श्रीनिवासन के स्वामी और नरसिम्हन कृष्णास्वामी ओएफएस के जरिए 17,88,093 इक्विटी शेयर बेचेंगे। वहीं, कंपनी के निवेशक इवान्स्टन पायनियर फंड एलपी 44,45,714 इक्विटी शेयर और प्रेम मार्केटिंग वेंचर्स एलएलपी 6,78,100 शेयर ओएफएस के माध्यम से बेचने वाले हैं। बता दें कि कंपनी में प्रमोटरों की 84.44 फीसदी हिस्सेदारी है। एसबीआई कैपिटल मार्केट्स, आईआईएफएल सिक्योरिटीज और मोतीलाल ओसवाल इन्वेस्टमेंट एडवाइजर्स इस आईपीओ के मर्चेंट बैंकर हैं।

कंपनी के बारे में 
आरके स्वामी, हंसा ग्रुप की कंपनी है। इसकी स्थापना दिवंगत संस्थापक आरके स्वामी ने की थी। उन्होंने पहले साल 1973 में चेन्नई में आरके स्वामी एडवरटाइजिंग एसोसिएट्स की शुरुआत की थी। इसके बाद ग्रुप का कारोबार बढ़ता गया। कंपनी की वेबसाइट के मुताबिक पिछले कुछ वर्षों में 4,000 से अधिक कस्टमर ऑर्गेनाइजेशन को सर्विस दी गई है। वित्त वर्ष 2023 में 7 शहरों में 15 कार्यालयों से 475 से अधिक ग्राहकों को सर्विस दी गई  है। कंपनी के क्लाइंट बैंकिंग, फाइनेंस और बीमा, ऑटोमोटिव, एफएमसीजी, रिटेल, ई-कॉमर्स, मीडिया और एंटरटेनमेंट सेक्टर में हैं। इसके क्लाइंट में एलआईसी, एसबीआई समेत कई सरकारी और प्राइवेट सेक्टर की कंपनियां शामिल हैं।

कंपनी के नतीजे
कंपनी ने मार्च 2023 को समाप्त वित्त वर्ष के लिए 31.26 करोड़ रुपये का प्रॉफिट दर्ज किया है, जो पिछले वर्ष के 19.26 करोड़ रुपये से ज्यादा है। इसी अवधि के दौरान परिचालन से राजस्व 234.4 करोड़ रुपये से बढ़कर 292.6 करोड़ रुपये हो गया। 

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें