DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आर्मी के जवानों के लिए इंजीनियर ने बनाए खास शैंपू-साबून, नहाने के लिए नहीं पड़ती पानी की जरूरत

आर्मी

भारतीय जवान कारगिल, सियाचिन और द्रास जैसे एरिया में -40 डिग्री की जमा देने वाली सर्दी में बॉर्डर पर तैनात रहते हैं। ये जवान कई बार लगातार 90 दिन तक बिना नहाए बॉर्डर पर हमारी रक्षा के लिए खड़े रहते हैं। ठंड और पानी नहीं होने के कारण इन एरिया में रोज नहाना लगभग असंभव है। ऐसे मामलों में कई बार उन्हें स्किन प्रॉब्लम ज्यादा होती हैं। आईआईएम के पुनीत गुप्ता ने जवानों की इस परेशानी को समझा। उनके लिए ऐसे शैंपू-साबून बनाए जिसमें वह बगैर पानी का इस्तेमाल किए नहा सके।

IIT के दोस्तों के साथ मिलकर डेवलप किया प्रोडक्ट

दिल्ली में जन्मे क्लेन्स्टा इंटरनेशनल के फाउंडर पुनीत गुप्ता ने लाइव हिन्दुस्तान को बताया कि डीआरडीओ के लिए एक प्रोजेक्ट पर काम करने के दौरान उन्हें जवानों की कई दिनों तक नहीं नहाने की समस्या के कारण आ रही परेशानी को जाना। तब उन्होंने दुनियाभर के देशों का रिसर्च किया लेकिन इस समस्या को कोई समाधान नहीं मिला। उन्होंने साल 2016 में आईआईटी के दोस्तों और प्रोफेसर के साथ मिलकर पर्सनल साफ-सफाई से जुड़े प्रोडक्ट को डेवलप करने पर काम किया।

ऐसे प्रोडक्ट बनाने वाला भारत पहला देश

दुनियाभर में नहाने जितना पर्सनल सफाई के स्टैंडर्ड को बनाए रखने के लिए कोई प्रोडक्ट नहीं बनाया गया है। भारत ऐसे प्रोडक्ट बनाने वाला पहला देश है। अपने प्रोडक्ट का फॉर्मूला बताने से गुप्ता ने मना कर दिया लेकिन उन्होंने बताया कि उनके प्रोडक्ट हैंड सैनिटाइजर की तरह नहीं होते। उनके बनाए शैंपू और बॉडी बाथ डस्ट, मैल और स्किन और सर के बालों का ऑयल हटाने का भी काम करते हैं। जवानों को शैपू और बॉडी बाथ लगाकर साफ तौलिये से पोछना होता है और इसमें पानी की जरूरत नहीं पड़ती। ये प्रक्रिया नहाने के बराबर है।

मारुति सुजुकी का नेट प्रॉफिट तीसरी तिमाही में 17 फीसदी गिरा

2018 से कर रहे हैं आर्मी को सप्लाई

अपना प्रोडक्ट बनाने के एक साल बाद 2018 में डिफेंस और आर्मी ने उनके बनाए प्रोडक्ट को पास कर दिया। वह तब से आर्मी और नेवी को शैंपू और साबून सप्लाई कर रहे हैं। आज उनकी कंपनी रोजाना 2 लाख बोतल बना रही है।

छोटी समस्या से खड़ा कर दिया बड़ा बिजनेस  

इंजीनियर और आईआईएम कोलकाता से पढ़ाई करने वाले पुनीत गुप्ता को जवानों की सफाई से जुड़ी समस्या से एक बड़ा बिजनेस आइडिया मिल गया जिसे वह अमेरिका, यूरोप जैसे देशों तक लेकर जाने वाले हैं। उन्हें अमेरिकी दूतावास से अफगानिस्तान में तैनात अमेरिकी सैनिकों के लिए ऐसे प्रोडक्ट भेजने तक की इन्क्वायरी आ रही है।

दिल्ली में पेट्रोल का दाम स्थिर, 66 रुपये लीटर के पार हुआ डीजल

152 देशों में कराया पेटेंट

कोई अन्य कंपनी या देश उनके प्रोडक्ट को कॉपी न कर ले इसलिए पुनीत ने इसे 152 देशों में पेटेंट कराया है। पुनीत के मुताबिक क्लेन्स्टा के 100 मिलीलीटर शैंपू की बोतल 350 लीटर पानी बचाती है। उनके शैंपू की कीमत 499 रुपए और बॉडी बाथ की कीमत 549 रुपए है। अब वह नासा में भी अपने प्रोडक्ट भेजने पर भी काम कर रहे हैं।

पूर्ण बजट पेश करने पर सड़क से संसद तक सरकार का विरोध करेगी कांग्रेस

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Republic day IIM Puneet gupta made water less shampoo and body bath