ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News BusinessRead this news before buying this Adani share atgl after incurring 80 percent loss it is now flying

अडानी के इस शेयर को खरीदने से पहले पढ़ें यह खबर, 80 फीसद नुकसान कराने के बाद अब भर रहा उड़ान

ATGL: अडानी टोटल गैस पिछले एक साल में 4000 के हाई से 522 रुपये तक के निचले स्तर तक आ गया था। अभी पिछले छह सेशन से शानदार उछाल के साथ 878.70 रुपये पर पहुंच गया है। क्या अब भी इसमें खरीदारी का मौका है

अडानी के इस शेयर को खरीदने से पहले पढ़ें यह खबर, 80 फीसद नुकसान कराने के बाद अब भर रहा उड़ान
Drigraj Madheshiaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 06 Dec 2023 07:02 AM
ऐप पर पढ़ें

Adani Total Gas Buy, Sell or Hold: हिंडनबर्ग की आंधी में उखड़ चुके अडानी ग्रुप के शेयरों को  'मोदी की गारंटी' ने संजीवनी दे दी।  मोदी मैजिक से तीन राज्यों में बीजेपी को मिली प्रचंड बहुमत से निवेशकों को जैसे ही यह भरोसा हुआ कि उन्हें 2024 में भी स्थिर सरकार मिलेगी, शेयर बाजार में खरीदारी को टूट पड़े। सेंसेक्स और निफ्टी ऑल टाइम हाई पर पहुंच गए। 

ऐसे में आज हम यह जानने की कोशिश करेंगे कि क्या हिंडनबर्ग की रिपोर्ट से हुए अडानी ग्रुप के निवेशकों के नुकसान की भरपाई हो गई? इस उड़ान को देखते हुए अडानी के शेयर पर दांव लगाए या नहीं? आज उस स्टॉक के प्रदर्शन, उसकी ताकत, कमजोरी, अवसर और खतरे के बारे में जानेंगे,जो हिंडनबर्ग की रिपोर्ट के बाद सबसे अधिक नुकसान में था।

शेयर बाजार उड़ान में अडानी ग्रुप के शेयरों का बड़ा योगदान, निवेशकों को ₹1.9 लाख करोड़ का फायदा

4000 से 522 रुपये पर आ गया

हिंडनबर्ग की रिपोर्ट के बाद अडानी टोटल गैस को सबसे अधिक नुकसान पहुंचा था। 24 जनवरी 2023 को यह 3891.75 रुपये का था और इसके बाद गोते लगाते हुए 522 रुपये के 52 हफ्ते के निचले स्तर तक आ गया। अभी 24 नवंबर 2023 को 536.95 रुपये पर ही था, लेकिन मंगलवार 5 दिसंबर को 20 फीसद की अपर सर्किट के साथ ₹878.70 रुपये पर बंद हुआ।

अडानी ग्रुप के शेयरों में उड़ान को देखते हुए अगर पैसा लगाने की सोच रहे हैं तो सबसे पहले उनकी, ताकत, कमजोरी, अवसर और खतरों की जांच कर लें। इसके बाद अपने विशेषज्ञ से सलाह लेकर ही निवेश करें।

अडानी टोटल गैस की ताकत

  • स्ट्रांग मोमेंटम:मनी फ्लो इंडेक्स (एमएफआई) द्वारा अधिक खरीददारी।
  • बढ़ते प्रॉफिट मार्जिन के साथ तिमाही आधार पर नेट प्रॉफिट में वृद्धि ।
  • बढ़ते प्रॉफिट मार्जिन (YoY) के साथ तिमाही नेट प्रॉफिट में वृद्धि।
  • कम कर्ज वाली कंपनी, पिछली 2 तिमाहियों से हर तिमाही मुनाफा बढ़ रहा है।
  • मुख्य व्यवसाय से कैश जेनरेट करने की मजबूत क्षमता।
  • पिछले 2 वर्षों से वार्षिक नेट प्रॉफिट, प्रति शेयर बुक वैल्यू में सुधार हो रहा है।
  • जीरो प्रमोटर प्लेज वाली कंपनी।
  • हाल के परिणाम: ऑपरेटिंग मार्जिन में वृद्धि के साथ परिचालन प्रॉफिट में वृद्धि (YoY)
  • एक महीने में स्टॉक में 20% से ज्यादा की तेजी आई।

अडानी टोटल गैस की कजोरी

  • शेयरधारक के फंड का अकुशल उपयोग : पिछले 2 वर्षों में आरओई में गिरावट
  • पिछले 2 वर्षों में आरओए में गिरावट आई है
  • नेट कैश फलो में गिरावट: कंपनी नेट कैश जेनरेट करने में सक्षम नहीं हो रही है।
  • 52 सप्ताह के उच्चतम स्तर से सबसे अधिक गिरावट

अडानी टोटल गैस में अवसर

  • हाई मोमेंटम स्कोर (50 से अधिक तकनीकी स्कोर)
  • हाई वॉल्यूम, हाईप्रॉफिट
  • ओपन से सबसे बड़ा मूल्य प्रॉफिट
  • साप्ताहिक मोमेंटम गेनर्स
  • वॉल्यूम शॉकर्स

 अडानी टोटल गैस में निवेश के खतरे: कोई नहीं

(डिस्‍क्‍लेमर: विशेषज्ञों द्वारा दी गई सिफारिशें, सुझाव, विचार और राय उनके अपने हैं, लाइव हिन्दुस्तान के नहीं। यहां सिर्फ शेयर के परफॉर्मेंस की जानकारी दी गई है, यह निवेश की सलाह नहीं है। शेयर बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन है और निवेश से पहले अपने एडवाइजर से परामर्श कर लें।)