DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

PNB घोटाले के बाद RBI सख्त, बैंकों के LoU जारी करने पर लगाई रोक

RBI

रिजर्व बैंक(आरबीआई) ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले से सबक लेते हुए गारंटीपत्र के जरिये बैंक गारंटी जारी करने की सुविधा पर मंगलवार को रोक लगा दी। भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी और उसके चाचा मेहुल चोकसी ने आयात के लिए उपलब्ध इस सुविधा का दुरुपयोग कर देश में बैंकिंग इतिहास के सबसे बड़े घोटाले को अंजाम दिया था। इसको देखते हुए यह कदम उठाया गया है।

आरबीआई ने गारंटीपत्र के साथ ही आश्वस्ति पत्र जारी करने पर भी तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी। आश्वस्ति पत्रभी गारंटी पत्र की तरह ही होता है।  इन पत्रों का इस्तेमाल आयातकों द्वारा विदेशों में की जाने वाली खरीद के वित्तपोषण में किया जाता है। आरबीआई ने जारी बयान में कहा कि कुछ तय शर्तों के साथ साखपत्र तथा बैंक गारंटी जारी किया जाना बरकरार रहेगा।

कार्रवाई: जानबूझकर बैंक का कर्ज नहीं चुकाने वालों पर CBI का शिकंजा

रिजर्व बैंक ने कहा कि गारंटीपत्र पर रोक लगाने का निर्णय तत्काल प्रभाव से लागू है। आरबीआई ने एक अधिसूचना में कहा, 'दिशानिर्देशों की समीक्षा के बाद आयात के लिए बैंकों द्वारा गारंटीपत्र जारी किये जाने की सुविधा पर रोक लगाने का निर्णय लिया गया है।'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:RBI discontinues letters of undertaking for trade credit for imports After PNB scam