DA Image
4 अगस्त, 2020|11:23|IST

अगली स्टोरी

60-70 रुपये किलो पहुंचा टमाटर का भाव, रामविलास पासवान ने दिया मौसम को दोष

tomato price hike in delhi

देश के लगभग तमाम बड़े शहरों में टमाटर की खुदरा कीमतें बढ़कर 60-70 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गई हैं। गुरुग्राम, गंगटोक, सिलीगुड़ी और रायपुर में टमाटर 70 रुपये प्रति किलो के भाव बिक रहा है, जबकि गोरखपुर, कोटा और दीमापुर में 80 रुपये प्रति किलोग्राम का भाव है। केन्द्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने कहा यह कमी वाला मौसम है, टमाटर के खराब होने की संभावना भी अधिक रहती है। मंत्रालय के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, बृहस्पतिवार को चेन्नई के अलावा मेट्रो शहरों में टमाटर की खुदरा कीमतें 60 रुपये प्रति किलोग्राम तक बढ़ गई, जो एक महीने पहले लगभग 20 रुपये प्रति किलो थी। कुछ स्थानों पर, टमाटर 70-80 रुपये प्रति किलो के भाव बेचा जा रहा है।

हैदराबाद में 37 रुपये किलो

आंकड़ों के अनुसार, उत्पादक राज्यों में भी, हैदराबाद में कीमत मजबूत होकर 37 रुपये प्रति किग्रा है, चेन्नई में 40 रुपये किलो और बेंगलुरु में 46 रुपये किलो है।  बढ़ती कीमतों के बारे में पूछे जाने पर, पासवान ने कहा: ''फसल का समय नहीं होने के कारण आम तौर पर, जुलाई से सितंबर के दौरान टमाटर की कीमतें अधिक रहती हैं। टमाटर के जल्द खराब होने के गुण के कारण, इसकी कीमतों में उतार-चढ़ाव अधिक होता है। उन्होंने कहा कि आपूर्ति सुधरने के बाद कीमतें सामान्य स्तर पर आ जाएंगी।

हर साल एक करोड़ 97 लाख टन टमाटर का उत्पादन

विशेषज्ञों ने यह भी कहा कि आम तौर पर ऊपज का समय नहीं होने के कारण सामान्य तौर पर टमाटर की कीमतों में तेजी आती है और पिछले पांच साल के आंकड़ों का यही रुझान है।   उत्तर प्रदेश, राजस्थान, झारखंड, पंजाब, तमिलनाडु, केरल, जम्मू और कश्मीर और अरुणाचल प्रदेश देश के कम टमाटर उत्पादन करने वाले राज्य हैं। वे आपूर्ति के लिए अधिक उत्पादन करने वाले राज्यों पर निर्भर करते हैं। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, देश में सालाना लगभग एक करोड़ 97 लाख टन टमाटर का उत्पादन होता है, जबकि खपत लगभग एक करोड़ 15 लाख टन है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Price of tomato reached 60 to70 kg Ram Vilas Paswan blamed the weather