ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News BusinessPM Modi issued new coins of 1 rupee 2 rupees 5 rupees 10 rupees and 20 rupees know what are their specialties Business News India

पीएम मोदी ने जारी किए ₹1, ₹2, ₹5, ₹10 और ₹20 के नए सिक्के, जानें क्या है इनकी खासियत 

मोदी ने सोमवार को सिक्कों की एक नयी श्रृंखला पेश की, जो 'दृष्टिहीनों के अनुकूल' भी हैं। ये सिक्के 1 रुपये, 2 रुपये, 5 रुपये, 10 रुपये और 20 रुपये मूल्यवर्ग के हैं और अमृत महोत्सव का डिजाइन बना है

पीएम मोदी ने जारी किए ₹1, ₹2, ₹5, ₹10 और ₹20 के नए सिक्के, जानें क्या है इनकी खासियत 
Drigraj Madheshiaएजेंसी,नई दिल्लीMon, 06 Jun 2022 01:50 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को सिक्कों की एक नयी श्रृंखला पेश की, जो 'दृष्टिहीनों के अनुकूल' भी हैं। ये सिक्के 1 रुपये, 2 रुपये, 5 रुपये, 10 रुपये और 20 रुपये मूल्यवर्ग के हैं। मोदी ने वित्त मंत्रालय के 'आइकॉनिक सप्ताह समारोह' को संबोधित करते हुए कहा, "सिक्कों की ये नयी श्रृंखला लोगों को अमृत काल के लक्ष्य की याद दिलाएगी और लोगों को देश के विकास की दिशा में काम करने के लिए प्रेरित करेगी।"

सिक्कों की खासियत

सिक्कों पर आजादी के अमृत महोत्सव (एकेएएम) का डिजाइन बना है। ये विशेष रूप से जारी किए सिक्के नहीं है, बल्कि आम चलन में बने रहेंगे।

'जन समर्थ पोर्टल की शुरुआत

इस मौके पर मोदी ने 'जन समर्थ पोर्टल' की शुरुआत भी की, जो 12 सरकारी योजनाओं का क्रेडिट-लिंक्ड पोर्टल है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि इनमें से प्रत्येक योजना को पोर्टल पर प्रदर्शित किया जाएगा। उन्होंने कहा, "इस पोर्टल से सहूलियत बढ़ेगी और नागरिकों को सरकारी कार्यक्रम का लाभ उठाने के लिए हर बार एक ही सवाल पूछना नहीं पड़ेगा।"

भारतीय बैंकों, मुद्रा को अंतरराष्ट्रीय व्यापार, आपूर्ति श्रृंखला का अहम हिस्सा बनाने की जरूरत: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि भारत के बैंकों और मुद्रा को अंतरराष्ट्रीय व्यापार और आपूर्ति श्रृंखला का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनाने की जरूरत है।  प्रधानमंत्री ने वित्तीय संस्थानों से आह्वान किया कि वे अच्छी वित्तीय और कॉरपोरेट प्रशासन प्रथाओं को लगातार प्रोत्साहित करें।

 आजादी के अमृत महोत्सव के तहत वित्त मंत्रालय और कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय के 'अनुप्रतीकात्मक सप्ताह' (आइकॉनिक वीक) समारोह का उद्घाटन करने के बाद मोदी ने कहा कि भारत ने विभिन्न वित्तीय समावेशन मंच विकसित किए हैं और इनके बारे में जागरूकता पैदा करने की जरूरत है। उन्होंने कहा, 'इन वित्तीय समावेशन समाधानों का विश्व स्तर पर विस्तार करने के प्रयास होने चाहिए।'

Gold Price Today: सोना-चांदी के गिरे भाव, 29933 रुपये खरीदें 10 ग्राम गोल्ड 

 प्रधानमंत्री ने कहा, 'हमारे घरेलू बैंकों, मुद्रा को अंतरराष्ट्रीय आपूर्ति श्रृंखला और व्यापार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा कैसे बनाया जाए, इस पर ध्यान देना जरूरी है।'  मोदी ने कहा कि जन केंद्रित शासन और सुशासन की दिशा में निरंतर प्रयास पिछले आठ वर्षों की पहचान है। उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियां बताते हुए कहा कि इस दौरान स्थायी आवास, बिजली, गैस, पानी, मुफ्त इलाज से गरीबों को वह सम्मान मिला, जिसके वे हकदार हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें