ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News BusinessPLI scheme 20 Dixon Technologies commits output worth Rs 45K crore Business News India

ये इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी 45 हजार करोड़ रुपए के प्रोडक्ट का प्रोडक्शन करेगी, 5 साल में निवेशकों को बना चुकी मालामाल

देश की सबसे बड़ी घरेलू इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग सर्विस (EMS) कंपनी डिक्सन टेक्नोलॉजीज (Dixon Technologies) ने 6 सालों में 48,000 करोड़ रुपए का क्यूम्यलेटिव प्रोडक्शन वेल्यू तय किया है।

ये इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी 45 हजार करोड़ रुपए के प्रोडक्ट का प्रोडक्शन करेगी, 5 साल में निवेशकों को बना चुकी मालामाल
Narendra Jijhontiyaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 20 Nov 2023 09:40 AM
ऐप पर पढ़ें

देश की सबसे बड़ी घरेलू इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग सर्विस (EMS) कंपनी डिक्सन टेक्नोलॉजीज ने 6 सालों में 48,000 करोड़ रुपए का क्यूम्यलेटिव प्रोडक्शन वेल्यू तय किया है। आईटी प्रोडक्ट के लिए प्रोडक्शन-लिंक्ड इंसेंटिव (PLI) योजना के तहत एलिजिबल घोषित किया गया है। इस कदम के साथ कंपनी जिसने पैडगेट इलेक्ट्रॉनिक्स के माध्यम से PLI योजना के लिए आवेदन किया था। वो 350,000 करोड़ रुपए के अतिरिक्त प्रोडक्शन वेल्यू का सातवां हिस्सा होगा। जिसे सरकार ने 6 सालों में 27 एलिजिबल कंपनियों द्वारा सामूहिक रूप से कलेक्टिव किया है।

अपनी योजना की पुष्टि करते हुए, डिक्सन टेक्नोलॉजीज के प्रबंध निदेशक, सुनील वाचानी ने कहा कि हमने हाइब्रिड घरेलू श्रेणी के तहत आवेदन किया था और वित्त वर्ष 2024-25 से शुरू होने वाले 6 सालों में 48,000 करोड़ रुपये का क्यूम्यलेटिव प्रोडक्शन वेल्यू और 250 करोड़ रुपए का निवेश किया है। पहले वर्ष में हमारा ध्यान फाइनल असेंबली और PCBA (प्रिंटेड सर्किट बोर्ड असेंबली) पर होगा। बाद में हम बैटरी, चार्जर, डिस्प्ले जैसे कम्पोनेंट पर ध्यान फोकस करेंगे।

केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगी 2 बड़ी खुशखबरी, सैलरी में होगा तगड़ा इजाफा

शाओमी के साथ कर चुकी साझेदारी
डिक्सन टेक्नोलॉजीज (Dixon Technologies) की सब्सिडियरी कंपनी पैडगेट इलेक्ट्रॉनिक्स (Padget Electronics) ने Xiaomi के साथ भी साझेदारी कर चुकी है। कंपनी ने 27 सितंबर को स्टॉक एक्सचेंजों को यह जानकारी दी थी। कंपनी ने कहा कि इस एग्रीमेंट के तहत स्मार्टफोन और अन्य संबंधित प्रोडक्ट्स की मैन्युफैक्चरिंग की जाएगी। प्रोडक्शन उत्तर प्रदेश के नोएडा में स्थित पैडगेट की मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी में किया जाएगा। इस साझेदारी पर कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट और मैनेजिंग डायरेक्टर अतुल बी लाल ने का था कि उन्हें भरोसा है कि इस सहयोग से एग्जीक्यूशन के उनके मजबूत ट्रैक रिकॉर्ड और भारतीय बिजनेस में शाओमी की एक्सपर्टाइज और लीडरशिप का लाभ मिलेगा।

गिरते बाजार में तूफान मचा रहा यह शेयर, एक्सपर्ट बोले-दांव लगाओ, होगा मुनाफा

5 साल में निवेशकों को बनाया मालामाल
डिक्सन टेक्नोलॉजीज के शेयर की बात करें तो इसकी मौजूदा वेल्यू 5426 रुपए है। 5 साल पहले इसके शेयर की कीमत 411 रुपए थी। यानी इन 5 साल के दौरान निवेशकों को एक शेयर पर 5,015 रुपए का मुनाफा हुआ है। ऐसे में जिन निवेशकों ने इस कंपनी के शेयर में 5 साल पहले 10000 शेयर खरीदे होंगे, उनकी मौजूदा वेल्यू 54 लाख रुपए से ऊपर हो चुकी है। यानी निवेशक को 50 लाख से ज्यादा का मुनाफा हुआ है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें