DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसएक महीने में पेट्रोल 6.90 और डीजल 7.45 रुपये हो चुका है महंगा, अभी राहत की नहीं दिख रही उम्मीद

एक महीने में पेट्रोल 6.90 और डीजल 7.45 रुपये हो चुका है महंगा, अभी राहत की नहीं दिख रही उम्मीद

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीDrigraj Madheshia
Thu, 28 Oct 2021 11:02 AM
एक महीने में पेट्रोल 6.90 और डीजल 7.45 रुपये हो चुका है महंगा, अभी राहत की नहीं दिख रही उम्मीद

Petrol Diesel Price: पिछले एक महीने में डीजल के रेट में 7.45 रुपये और पेट्रोल 6.90 रुपये का उछाल आ चुका है। पिछले महीने 28 सितंबर को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 101.39 रुपये और डीजल की 89.57 रुपये थी। इस दौरान कच्चे तेल का भाव भी 80 डॉलर प्रति बैरल से 85 डॉलर प्रति बैरल को पार गया है। एक महीने पहले आज ही के दिन यानी 28 सितंबर को  लखनऊ में पेट्रोल 98.51 रुपये प्रति लीटर तो डीजल 89.98 रुपये प्रति लीटर था और आज पेट्रोल 105.22 व डीजल 97.48 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है।

अगर पटना की बात करें तो 28 सितंबर 2021 को पेट्रोल 104.04 रुपये प्रति लीटर तो डीजल 95.70 रुपये था और अगर आज की बात करें तो यह 112.04 रुपये और डीजल 103.64 रुपये लीटर पर पहुंच गया है। कोलकाता में एक महीने 101.87 रुपये प्रति लीटर मिलने वाला पेट्रोल अब 108.78 रुपये का हो गया है। वहीं डीजल  92.62 प्रति लीटर से 100.14 रुपये पर पहुंच गया है।

पिछले 7 साल में दिल्ली में यूं बढ़े पेट्रोल-डीजल के रेट

  • 2014-15- पेट्रोल 66.09 रुपये प्रति लीटर, डीजल 50.32 रुपये प्रति लीटर
  • 2015-16- पेट्रोल 61.41 रुपये प्रति लीटर, डीजल 46.87 रुपये प्रति लीटर
  • 2016-17- पेट्रोल 64.70 रुपये प्रति लीटर, डीजल 53.28 रुपये प्रति लीटर
  • 2017-18- पेट्रोल 69.19 रुपये प्रति लीटर, डीजल 59.08 रुपये प्रति लीटर
  • 2018-19- पेट्रोल 78.09 रुपये प्रति लीटर, डीजल 69.18 रुपये प्रति लीटर
  • 2019-20- पेट्रोल 71.05 रुपये प्रति लीटर, डीजल 60.02 रुपये प्रति लीटर
  • 2020-21- पेट्रोल 76.32 रुपये प्रति लीटर, डीजल 66.12 रुपये प्रति लीटर
  • 2021-22 पेट्रोल 105.22 रुपये प्रति लीटर, डीजल 97.48 रुपये प्रति लीटर

राहत की उम्मीद नहीं

अभी देश के सभी प्रमुख शहरों में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर को पार कर चुकी है। अधिकांश शहरों में डीजल भी शतक लगा रहा है। इस महीने में अब तक 28 दिनों में से 21 दिन इन दोनों की कीमतों में बढोतरी हुयी है। इस महीने में अब तक पेट्रोल 6.65 रुपये प्रति लीटर और डीजल 7.25 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है। बाजार अध्ययन एवं साख नर्धिारण करने वाली कंपनी गोल्डमैन सैक्स ने अगले साल तक ब्रेंट क्रूड के 110 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंचने की रिपोर्ट के बीच अंतरराष्ट्रीय बाजार में बुधवार को अमेरिका में कच्चे तेल में भारी गिरावट रही। इसके साथ ही गुरूवार को सिंगापुर में कच्चे तेल में कारोबार नरमी के साथ शुरू हुआ। ब्रेंट क्रूड 2.09 डॉलर उतरकर 82.49 डॉलर प्रति बैरल पर और अमेरिकी क्रूड 1.79 डॉलर फिसलकर 80.87 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा है।
 

कच्चे तेल महंगा होने का असर

1. रसोई गैस की कीमत बढ़ेगी
2. पेट्रोल-डीजल के दाम में बढ़ोतरी

3. जरूरी रसायन महंगे हो जाएंगे
4. हवाई इंधन महंगा होगा

5. माल भाड़ा में इजाफा होगा
6.ल्यूब्रिकेंट्स, पेंट महंगे होंगे

7. जहाज, फैक्ट्री की लगात बढ़ेगी
8. रोड के निर्माण लागत में वृद्धि

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें