Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़penny share vakrangee limited hit 20 percent upper circuit price is 30 rs check detail - Business News India

₹25 के शेयर को खरीदने की लूट, लगा 20% का अपर सर्किट, कंपनी का ये है प्लान

Vakrangee limited : 29 जनवरी को Vakrangee लिमिटेड ने बीएसई को सूचित किया है कि कंपनी के निदेशक मंडल की बैठक छह फरवरी को होगी। इस बैठक में कई मुद्दों पर बात होगी। इसमें से एक मुद्दा राइट्स इश्यू का है।

Deepak Kumar लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीWed, 31 Jan 2024 04:55 PM
हमें फॉलो करें

Vakrangee limited share: आईटी सेक्टर से जुड़ी कंपनी Vakrangee लिमिटेड के शेयरों में तेजी का सिलसिला जारी है। सप्ताह के तीसरे कारोबारी दिन बुधवार को भी इस शेयर में अपर सर्किट लगा और भाव 52 हफ्ते के हाई पर पहुंचा। पिछली क्लोजिंग प्राइस 25.15 रुपये के मुकाबले शेयर की कीमत 20 फीसदी बढ़कर 30.18 रुपये तक पहुंच गई। वहीं, कंपनी का मार्केट कैप 3,197.61 रुपये रहा। 

राइट्स इश्यू पर मंथन
बीते 29 जनवरी को Vakrangee लिमिटेड ने बीएसई को सूचित किया है कि कंपनी के निदेशक मंडल की बैठक छह फरवरी को होगी। इस बैठक में कई मुद्दों पर बात होगी। इसमें से एक मुद्दा राइट्स इश्यू का है। कंपनी इश्यू के जरिए पैसे जुटाने के प्रस्ताव पर विचार करेगी। बता दें कि राइट्स इश्यू के तहत कंपनी अपने निवेशकों को शेयर बेचकर पैसे जुटाती है। शेयरधारक कंपनी की ओर से तय अवधि में ही राइट्स इश्यू के तहत शेयर खरीद सकते हैं। इसका अनुपात होता है, जिसे कंपनी तय करती है। इसके अलावा कंपनी तिमाही नतीजों का भी ऐलान कर सकती है।

शेयरहोल्डिंग पैटर्न की डिटेल
दिसंबर तिमाही के शेयरहोल्डिंग पैटर्न की बात करें तो Vakrangee लिमिटेड में प्रमोटर्स की हिस्सेदारी 42.60 फीसदी है। इाी तरह पब्लिक शेयरहोल्डिंग 57.40 फीसदी की है। प्रमोटर्स में सबसे ज्यादा शेयर VAKRANGEE होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड के पास है। इसके पास 25,09,50,388 शेयर हैं, जो प्रमोटर की कुल हिस्सेदारी में 23.69 फीसदी के बराबर है। इसके अलावा प्रमोटर्स में NJD कैपिटल प्राइवेट लिमिटेड भी शामिल है। इसके पास भी 12 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी है।

कंपनी के बारे में
साल 1990 में वजूद में आई कंपनी Vakrangee लिमिटेड आईटी सेक्टर से जुड़ी है। यह कंपनी देश के 31 राज्य के 560 जिलों में सर्विस दे रही है। इसके आउटलेट्स करीब 21,240 हैं। यह कंपनी एटीएम, ई-कॉमर्स और लॉजिस्टिक्स सेवाएं प्रोवाइड करके अलग-अलग क्षेत्रों में विस्तार कर रही है। कंपनी को व्हाइट लेबल एटीएम इंस्टॉल और मैनेजमेंट करने के लिए आरबीआई से लाइसेंस मिला है। आज कंपनी ग्रामीण भारत में चौथा सबसे बड़ा एटीएम प्रोवाइडर है। कंपनी के सर्विस पार्टनर में पंजाब नेशनल बैंक यानी पीएनबी, बैंक ऑफ बड़ौदा समेत कई पीएसयू बैंक हैं।

नोट: यह निवेश की सलाह नहीं है। निवेश से पहले अपनी सूझबूझ का इस्तेमाल करें। यहां सिर्फ पेनी शेयर के परफॉर्मेंस की जानकारी दी गई है।

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें