Friday, January 28, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसएनपीएस ने निवेशकों को महंगाई दर से दोगुना रिटर्न दिया, 50000 रुपये की अतिरिक्त टैक्स छूट का भी फायदा

एनपीएस ने निवेशकों को महंगाई दर से दोगुना रिटर्न दिया, 50000 रुपये की अतिरिक्त टैक्स छूट का भी फायदा

नई दिल्ली। एजेंसीDrigraj Madheshia
Tue, 07 Dec 2021 07:56 AM
एनपीएस ने निवेशकों को महंगाई दर से दोगुना रिटर्न दिया, 50000 रुपये की अतिरिक्त टैक्स छूट का भी फायदा

इस खबर को सुनें

पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) के चेयरमैन सुप्रतिम बंदोपाध्याय ने कहा है कि राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (एनपीएस) ने पिछले 12 साल के दौरान 12 फीसदी से अधिक रिटर्न दिया है। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति या अंशधारक को इस उत्पाद से अधिकतम लाभ हासिल करने के लिए इसमें निवेश जल्दी शुरू करना चाहिए। एनपीएस का यह रिटर्न मौजूदा खुदरा महंगाई दर से दोगुना ज्यादा है।

यह भी पढ़ें: 31 दिसंबर तक फाइल कर दें ITR वरना जुर्माना और नोटिस के लिए रहें तैयार

बंदोपाध्याय ने सोमवार को यहां भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के बीमा एवं पेंशन शिखर सम्मेलन 'भारतीय बीमा क्षेत्र-बदलाव की लहर पर सवार' को संबोधित करते हुए यह बात कही। पीएफआरडीए दो पेंशन योजनाएं एनपीएस और अटल पेंशन योजना (एपीवाई) उपलब्ध करता है।

सबसे सस्ता निवेश

एनपीएस में आपको एक हजार रुपये न्यूनतम सालाना निवेश करने की जरूरत होती है। इसके अलावा आप कभी भी इसमें निवेश को बढ़ा सकते हैं। बंदोपाध्याय के मुताबिक इसका सबसे लाभ यह है कि इसमें आपको सिर्फ एक हजार रुपये का भुगतान करना होता है। इसमें कोई निश्चित अंशदान तय नहीं है। इसकी वजह से जब भी आपके पास कुछ बचत होती है या अतिरिक्त राशि आती है उसे सुविधानुसार एनपीएस में निवेश कर सकते हैं।

न्यूनतम और अधिकतम रिटर्न

इसमें निवेश के तीन विकल्प विकल्प मिलते हैं। इक्वटी यानी शेयर, सरकारी प्रतिभूति और कॉरपोरेट बांड। पिछले 12 साल के दौरान इक्विटी योजनाओं के तहत इसमें रिटर्न या प्रतिफल 12 प्रतिशत से अधिक रहा है। वहीं सरकारी प्रतिभूतियों में यह 9.9 प्रतिशत रहा है। जबकि कॉरपोरेट बांड में यह कुछ ऋण से जुड़े घटनाक्रमों के बावजूद सालाना आधार पर 9.59 प्रतिशत रहा है।

ऐसे खोल सकते हैं खाता

आप डाकघर या बैंक में एनपीएस खाता खोल सकते हैं। कई बैंक घर बैठे ऑनलाइन खाता खोलने की अनुमति देते हैं। बैंक में खाता खोलने के लिए 500 रुपये की जरूरत होती है। जबकि उसके बाद 500 रुपये एक बार जमा करना होता है। इस तरह कुल एक हजार रुपये की राशि को आपका न्यूनतम एक हजार रुपये जमा के रूप में मान लिया जाता है।

epaper

संबंधित खबरें