DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब एक ही कार्ड को डेबिट और क्रेडिट कार्ड की तरह कर सकेंगे इस्तेमाल, जानें कैसे

पेमेंट वॉलेट की बढ़ती लोकप्रियता के बाद बैंक भी डेबिट-क्रेडिट से जुड़े नए ऑफर पेश कर रहे हैं। इसी फेहरिस्त में कुछ बैंकों ने ऐसा कार्ड पेश किया है, जो डेबिट और क्रेडिट कार्ड दोनों का काम करेगा। कार्ड का एक साइड डेबिट कार्ड की तरह चलेगा वहीं दूसरा साइड क्रेडिट कार्ड की तरह इस्तेमाल किया जा सकेगा। 

विशेषज्ञों का कहना है कि अगर आप ज्यादा कार्ड नहीं रखना चाहते हैं तो यह कांबो ऑफर बढ़िया है। इंडसइंड और यूनियन बैंक ऐसा कार्ड लेकर आए हैं। इंडसइंड बैंक ने अक्तूबर में ड्युओ नाम से और यूनियन बैंक ने नवंबर में कांबो नाम से यह कार्ड लॉन्च किया है, जिसे काफी लोकप्रियता मिली है। इंडसइंड बैंक ने इसके लिए वीजा और यूनियन बैंक ने रुपे कार्ड से समझौता किया है। दूसरे बैंक भी जल्द ही ग्राहकों को लुभाने के लिए ऐसी ही सुविधा दे सकते हैं। हाल ही में बैंकों ने खरीदारी की सीमा तय करने वाले लॉक-अनलॉक फीचर के साथ भी कार्ड जारी किया है, जो बेलगाम खरीदारी से आपको बचाता है। 

- इस कार्ड में दो चिप और दो मैग्नेटिक स्ट्रिप होती है।
- एक हिस्से में डेबिट कार्ड की डिटेल होगी
-  दूसरे पर क्रेडिट कार्ड की जानकारी
- कार्ड पर ज्यादा रिवॉर्ड प्वाइंट मिलेंगे

इंडसइंड बैंक कार्ड खो जाने पर किसी धोखाधड़ी के लिए भी तीन लाख रुपये की क्षतिपूर्ति का बीमा भी करता है। यानी अगर कार्ड खो जाने पर कोई इससे खरीदारी कर लेता है तो इसकी तीन लाख रुपये तक की भरपाई बैंक करेगा। हालांकि कार्ड खो जाने की जानकारी तुरंत आपको बैंक को देनी होगी और इसकी एफआईआर भी करानी होगी। 

इंडसइंड बैंक का कहना है कि ड्युओ कार्ड से ग्राहकों का झंझट कम होगा। एक ही स्टेटमेंट बनेगा। ग्राहक दोनों कार्ड की खरीदारी का लेखाजोखा देख सकेंगे। अलग-अलग खरीदारी के बावजूद दोनों के रिवॉर्ड प्वाइंट भी एक साथ जुड़ेंगे और रिडीम करने के दौरान ज्यादा बेहतर लाभ ग्राहक ले सकेंगे। रिवार्ड प्वाइंट डेबिट या क्रेडिट की किसी खरीदारी में उपयोग होंगे।

FD में समय से पहले भी निकाल सकते हैं पैसा, नहीं कटेगा चार्ज- जानें कैसे

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Now use one car as debit or credit card know how